Pushpam Priya Chaudhary: 10 special things about Pushpam Priya Chaudhary, who has stirred up the politics of Bihar elections 2020

Pushpam Priya Chaudhary: बिहार की राजनीति में हड़कंप मचाने वालीं पुष्पम प्रिया चौधरी के बारे में 10 खास बातें

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पुष्पम प्रिया चौधरी, बिहार चुनाव (Pushpam Priya Chaudhary in Bihar Elections 2020): बिहार में नई राजनीती का आगाज़ हो रहा है या यूं कहे की एक नया दौर शुरू हो रहा हैं। समय बदल रहा है और पुरानी राजनीती के डिब्बों का आधुनिकीकरण हो रहा है, पुराने जंग लग चुके डिब्बों की जगह नए चहरे सामने आ रहे हैं, ऐसा बोला जाए या वो पुरानी कहावत Old is Gold इस बात पर सटीक बैठती है। ख़ैर कुछ भी हो – बिहार में चुनाव हैं और बिहार की जनता क्या चाहती है ये तो ख़ैर आने वाला वक़्त ही बताएगा। लेकिन इन सबके बीच जो खबर है वो ये है कि इतनी तेज़ी से मीडिया की सुर्खियों में छा जाने वालीं पुष्पम प्रिया चौधरी (Pushpam Priya Choudhary) आख़िर हैं कौन? आखिर क्यों राजनीतिक गलियारों में पुष्पम और उनकी पार्टी प्लूरल्स चर्चा का केंद्र बनीं हुईं हैं। जानिए पुष्पम प्रिया चौधरी (Pushpam Priya Choudhary)  के बारे में दिलचस्प बातें।

1. पुष्पम प्रिया चौधरी का जन्म 13 जून को बिहार के दरभंगा (Bihar, Darbhanga) जिले में हुआ था। कई लोग उनको बाहरी देश का समझते हैं, लेकिन उनको अनेक भाषाओं का ज्ञान होने के साथ ही अच्छी मैथिली भी आती हैं।

2. पुष्पम प्रिया चौधरी के पिताजी जनता दल यूनाइटेड से एमएलसी रह चुके हैंं और बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार (Bihar Chief Minister Nitish Kumar) के साथ उनके मधुर संबंध रहे हैं।

Bihar Elections 2020 : बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान, जानिए पूरा शेड्यूल

3. पुष्पम प्रिया तब पहली बार सुर्खियों में आईं जब उन्होंने 08 मार्च 2020 को बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी दावेदारी पेश की। वैसे तो प्रिया की प्रारंभिक शिक्षा बिहार में ही हुई लेकिन उच्च शिक्षा के लिए वे विदेश (Foreign) गईं और आगे की पढ़ाई लंदन में पूरी की।

4. प्रिया पढ़ने लिखने में अच्छी थीं। कम उम्र में बहुत सी डिग्री हासिल कर लेने वालीं पुष्पम प्रिया ने डेवेलपमेंट स्टडी से मास्टर्स (MA in Development Studies) किया है। इसके अलावा पुष्पम पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन (Masters in Public Administration) में भी मास्टर्स कर चुकी हैं।

5. पुष्पम प्रिया के मुताबिक, उन्होंने राजनीती को काफ़ी करीब से देखा और जिया है, उनके पापा और दादा भी राजनीति से जुड़े रहे हैं। यही कारण है कि वे राजनीति और समाज की अच्छी समझ रखतीं हैं। हाल ही में उन्होंने प्लुरल्स (Plurals Party, Bihar) के नाम से पार्टी का गठन किया है। बिहार के लोगो और सत्ताधारियों की नींद उस वक़्त टूट गई जब पुष्पम प्रिया ने प्लूरल्स पार्टी की घोषणा के साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री पद के लिए दावेदारी पेश की।

बिहार चुनाव तारीखों का ऐलान, कोरोना के बीच दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव

6. पुष्पम प्रिया का कहना हैं कि वे बिहार में बड़े बदलाव के साथ ही अपने राज्य को नया रंग-रूप देना चाहती हैं, बिहार की जनता से अपील करते हुए पुष्पम का कहना है कि बिहार के बेहतर और उज्जवल भविष्य के लिए उनकी पार्टी प्लूरल्स को चुनाव में भारी वोटों से विजयी बनाएं। इतना ही नहीं इसके साथ ही उन्होंने लोगों से कहा है कि अगर आप राजनीति की पुरानी सभ्यता से परेशान हो चुके हैं और अपने प्रदेश बिहार को दिल से चाहते हैं तो आईये हमारे साथ जुड़िए।

7. पुष्पम प्रिया ने बिहार की जनता से वादा करते हुए कहा है कि अगर उनकी पार्टी बहुमत में आती है और वे मुख्यमंत्री बनतीं हैं तो उनके शासन में साल 2025 तक बिहार पूरे देश में सबसे ज्यादा विकसित और आधुनिक प्रदेश बन चुका होगा और 2030 तक आप इसकी तुलना किसी भी यूरोपियन देश से कर सकते हैं।

8. पुष्पम प्रिया जिस तेजी से आगे बढ़ रही हैं उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वे भविष्य में दूसरे नेताओं और पार्टियों के लिए चिंता का विषय बन सकती हैं। प्रिया गठबंधन की राजनीति में विश्वास नहीं रखतीं और कहतीं हैं कि मेरे रहते हमारी प्लूरल्स पार्टी किसी दूसरी पार्टी से गठबंधन कर सरकार नहीं बनाएगी।

Bihar election : सैलाब में डूब चुके बिहार को मिलेगा 625 करोड़ का ‘चुनावी कफ़न’

9. पुष्पम प्रिया ने घोषणा करते हुए कहा है कि उनकी पार्टी बिहार की सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बता दें कि उन्होंने अपने उम्मीदवारों की लिस्ट भी जारी की है लेकिन इनमें से 28 उम्मीदवारों को भारतीय निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) अयोग्य घोषित करते हुए उनके नामांकन निरस्त कर दिए हैं।

10. पुष्पम प्रिया की राजनीति में दस्तक पर उनके पिता उन्हें शुभकामनाएं और आशीर्वाद देते हुए कहते हैं कि हर किसी को सपने देखने का हक़ है, मेरी बिटिया खूब पढ़ी लिखी हैं और इसका उसको फ़ायदा मिलेगा। पुष्पम प्रिया चौधरी राष्ट्रपति महात्मा गाँधी (Father of Nation Mahatma Gandhi) के मार्ग पर चलती हैं और उनके दिए गए सिद्धांतों पर भरोसा करती हैं।  

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.