पूजा स्पेशल ट्रेन का रुट चार्ट देखें

Chhath Puja 2020: पूजा स्पेशल ट्रेन आज से शुरु, देखिए किस रुट पर कौनसी ट्रेन

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देश में त्यौहारों का मौसम शुरु हो चुका है। ऐसे में दूसरे शहरों में काम कर रही लोग घरों की ओर पूजा और त्योहार मनाने के लिए लौट रहे हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए रेलवे 392 पूूजा स्पेशल ट्रेन चलाने जा रहा है। 20 अक्टूबर से 30 नंबर तक 392 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन चलेंगी। यह वर्तमान में चल रहीं ट्रेनों से अतरिक्त ट्रेनें होंगी। छठ पूजा में विशेष तौर पर ट्रेनों में भीड़ देखी जाती रही है।

कोविड की वजह से वैसे भी सीमित ट्रेनें ही चलाई जा रही हैं। मौजूदा ट्रेन संख्या त्यौहारों में यात्रियों की संख्या के लिहाज़ से पर्याप्त नहीं है। इसीलिए रेलवे विशेष ट्रेनें चलाने जा रहा है। हालांकि इन ट्रेनों में कोविड के नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा।

ALSO READ:  मथुरा: पटरी से उतरे मालगाड़ी के चार डिब्बे, बड़ा हादसा होने से टला

ALSO READ: Indian Railways- मोदी सरकार IRCTC में OFS के ज़रिए बेचेगी हिस्सा

पूजा स्पेशल ट्रेन के बारे में अहम जानकारी

  • दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ पूजा की छुट्टी अवधि में बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कोलकाता, पटना, वाराणसी और लखनऊ जैसे स्थानों के लिए पूूजा स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही हैं। 
  • इन ट्रेनों में विशेष ट्रेनों वाला किराया लागू होगा, यानी इनका किराया मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों की तुलना में 10-30 प्रतिशत तक अधिक होगा, जो यात्रा की श्रेणी पर निर्भर करेगा।
  • पूूजा स्पेशल ट्रेन केवल 40 दिनों के लिए चलेंगी।
  • वर्तमान में कुल 666 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं, जबकि सभी नियमित ट्रेनों को महामारी के मद्देनजर अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर दिया गया है।
  • रेलवे ने ट्रेन सफर के लिए गाइडलाइन भी जारी की है, जिसके मुताबिक मास्क नहीं पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करना, यात्रियों को बहुत महंगा पड़ सकता है।
  • रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार, कोविड पॉजिटिव होने पर भी ट्रेन का सफर करने पर, मास्क नहीं पहनने या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर जुर्माना और जेल हो सकता है। 
ALSO READ:  भारतीय रेलवे ने फिर शुरू की ये 80 ट्रेनें, यात्रा से पहले यहां पढ़िये सारे नियम

देखें रुट चार्ट

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।