Home » पोस्ट कोविड सिंड्रोम क्या है, इससे बचने के लिए क्या करें?

पोस्ट कोविड सिंड्रोम क्या है, इससे बचने के लिए क्या करें?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बिना डॉ की सलाह के कोरोना के मरीजों को कोई भी दवा नही देनी चाहिए। काफी लोग तो इस बात से अनजान है कि कोविड के दौरान कौन सी दवाइयों का इस्तेमाल करें और कौन सा टेस्ट कराये और क्या क्या सावधानियां बरते ऐसे कई सवालों पर Health OPD ने सिनियर पीडियाटिशन और एलर्जी एक्सपर्ट (pediatrition and elergy expert) डॉ अव्यक्त अग्रवाल से बात चीत की।

डॉ अव्यक्त अग्रवाल ने बताया कि कोरोना मरीजों के ठीक हो जाने के बाद भी हल्की फुल्की दिक्कतें रहती है जिन्हें पोस्ट कोरोना सिन्ड्रोम (post corona syndrom) कहते हैं जिससे इंसान के अंदर कमजोरी, थकान, मसल्स,नींद में गड़बड़ी, गला खराब, भूख न लगना आदि दिक्कतें रहती हैं इन सब को दूर करने के लिए प्रोटीन वाला खाना और ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए।

ऐसा क्या किया जाए जिससे कोरोना हमारे शरीर के अंदर न प्रवेश हो सके

कोरोना से बचने के लिए हमे अपने खान पान का खास ख्याल रखना होगा जिससे हमारा शरीर कमजोर न पड़ सके। डॉ. अव्यक्त अग्रवाल का कहना है कि (body tomprature) जितना ही कम होगा कोरोना उतनी ही जल्दी हमारे शरीर के अंदर प्रवेश करेगा उन्होंने बताया कि खाने में हमे प्रोटीन के लिए दाल अंडा, दही अन्य चीजें खानी चाहिए और इसके साथ खूब आराम करें और सुरुआत में थोड़ा एक्सरसाइज भी करें।

READ:  WhatsApp COVID-19 relief initiatives; check details

कोरोना मरीजों के लिए कौनसी दवाईयां जरूरी हैं

सीनियर पीडियाट्रिशन और एलर्जी एक्सपर्ट डॉ अव्यक्त अग्रवाल ने बताया कि अगर पोस्ट कोविड वाला वयक्ति ज्यादा एडल्ट है तो 60 लाख IU वाला इंजेक्शन लगवाना चाहिए और मैग्नीशियम टेबलेट 2 महिने तक रोजाना लेना चाहिए इसके साथ विटामिन B-12 का कैप्सूल भी रोजाना लें इस दौरान मिल्क और नट्स अपने खाने में जरूर लें जिससे आप के अंदर कमजोरी न उत्पन्न होने पाए और ताकत बनी रहें इस बीच किसी भी प्रकार की कोई दवाइयां नही लेनी चाहिए।

कोविड में कौन से टेस्ट जरूरी है

डॉ अव्यक्त अग्रवाल कहतें हैं कि अगर नींद की कमी है तो एंटी एंजायटी की जरूरत हो सकती है इस दौरान एक्सरसाइज भी करें जिससे आपको मदद मिल सके और पोस्ट कोविड के दैरान लंग्स खुद ठीक हो जाते हैं इसके टेस्ट जरूरी नही होतें किसी ब्लड टेस्ट या कोई सिटी स्कैन की कोई जरूरत नही पड़ती है हाँ, अगर सीने में दर्द बना रहे तो (eco ecg) कराना चाहिए और (daaiwatij) की कोई दिक्कत है तो ऐसे में कोविड के बाद एक बार (daaiwatij) टेस्ट जरूर करायें जिससे कुछ भी पता चलने पर आप उसका इलाज करवा सके।