Home » अपनी ड्यूटी निभा रहे होमगार्ड से अफसर ने पैर छूकर मंगवाई माफी और जबरन करवाया उठक-बैठक

अपनी ड्यूटी निभा रहे होमगार्ड से अफसर ने पैर छूकर मंगवाई माफी और जबरन करवाया उठक-बैठक

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk

बिहार के अररिया जिले में ऑन ड्यूटी होमगार्ड जवान (Home guard) ने गाड़ी रोककर जब कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार लॉकडाउन का पास मांगा और नहीं दिखाने पर 500 रुपए फाइन देने की बात कही। कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार गाड़ी से उतरे और सभी पुलिस अधिकारियों को वहां बुलाया। सिपाही से उठक-बैठक कराई गई। इसके बाद सिपाही ने अफसर के पैर छूकर माफी मांगी। वहां मौजूद किसी ने इस घटना का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। बताया जा रहा है कि ये घटना दो दिन पहले की है। मंगलवार को इसका वीडियो सामने आया है।

कृषि पदाधिकारी द्वारा लॉकडाउन में तैनात होमगार्ड के जवान के साथ उठक बैठक कराने का वीडियो वायरल होते ही बिहार के कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार (Minister Prem Kumar) ने विभाग के वरीय अधिकारी और पूर्णिया प्रमंडल के ज्वाइंट डायरेक्टर एग्रीकल्चर को जांच के आदेश दिए हैं। कृषि मंत्री ने इस संबंध में 24 घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट मांगी है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी। वीडियो वायरल होने के बाद एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि सभी पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। सिपाही खुद उठक बैठक करने लगा। कृषि पदाधिकारी ने उठक-बैठक नहीं कराया है। मैंने खुद मामले की जांच की है। बता दें कि सिपाही का नाम गोनू तात्मा है और इसकी तैनाती अररिया जिले के बैरगाछी में है।

बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने भी इस पूरे मसले पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि यह घटना शर्मनाक है। इसकी सूचना हमने सरकार को दे दी है और शाम तक रिपोर्ट आ जाएगी। जो भी हुआ गलत हुआ, अगर कोई वर्दीधारी कोई गलती करता है, तो हम उसके खिलाफ कार्रवाई करते हैं। ऐसे में अगर कोई बात थी, तो मुझे सूचना देनी चाहिए थी।

READ:  ग्रामीण लड़कियों की आजादी की डोर बनी फुटबॉल

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।