Home » किसान आंदोलन के मद्देनज़र बढ़ायी गयी सुरक्षा

किसान आंदोलन के मद्देनज़र बढ़ायी गयी सुरक्षा

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कोरोना महामारी की रफ्तार धीमी होने के बाद अनलॉक की शुरुआत हुई है। जिसके बाद किसान आंदोलन (Farmers Protest) भी अनलॉक होता नजर आ रहा है। खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली पुलिस व अन्य एजेंसियों को अलर्ट किया है। खुफिया एजेंसियों के अनुसार, पाकिस्तान स्थित आईएसआई के प्रतिनिधि किसानों की आड़ में गड़बड़ी फैला सकते हैं। दरअसल किसान आंदोलन को तेज करने के लिए किसान नेता पूरी ताकत लगा रहे हैं।

टीकाकरण की ज़िम्मेदारी सरकार के लिए पब्लिसिटी का बहाना ?

किसान आंदोलन ने किए 7 महीने पार

कोरोना महामारी की रफ्तार धीमी होने के बाद अनलॉक की शुरुआत हुई है। जिसके बाद किसान आंदोलन (Farmers Protest) भी अनलॉक होता नजर आ रहा है। ज्ञात हो कि आज किसान आंदोलन को पूरे सात महीने हो गये हैं और किसान नेताओं ने कहा है कि आज किसान देश भर के राजभवन जाकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेंगे। इसको देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में उपराज्यपाल निवास के बाहर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। 

READ:  Farmers plan daily protest outside Parliament during Monsoon Session

रैली को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा

दिल्ली पुलिस के एडिशनल प्रवक्ता अनिल मित्तल ने मीडिया को बताया कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के आज सात महीने पूरे होने पर किसान ट्रैक्टर रैली करेंगे। ऐसे में सुरक्षा को देखते हुए दिल्ली पुलिस व अर्धसैनिक बल आईटीओ, टिकरी बॉर्डर पर, सिंघु बॉर्डर, गाजीपुर बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। इसके साथ ही उपराज्यपाल निवास के बाहर भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।

पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, गणतंत्र दिवस पर जिस तरह किसानों ने ट्रैक्टर रैली निकाली थी उसी को देखते हुए दिल्ली पुलिस व अर्धसैनिक बल को तीनों बॉर्डर के अलावा नई दिल्ली, आईटीओ, पंजाबी बाग, नांगलोई, मुंडका, कर्मपुरा वाजीराबाद, बुराड़ी,नरेला, अलीपुर आदि रोड पर तैनात किया  गया है।

इन सभी बातों में सहजता दिखाते हुए खुफिया एजेंसियों ने पहले ही चेता दिया है। खुफिया एजेंसियों ने जानकारी में सचेत रहने के आदेश दिए हैं। एजेंसी के द्वारा आई जानकारी में सीधे से इस बात को रखा गया है कि पाकिस्तान इसमें मिलावटी ढंग से हस्तक्षेप कर सकता है।

READ:  220 deaths during farmers protest, Punjab govt figures revealed

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।