Home » HOME » PM के दौरे का प्रोटोकॉल क्या होता है? जानें इससे जुड़ी हर जानकारी

PM के दौरे का प्रोटोकॉल क्या होता है? जानें इससे जुड़ी हर जानकारी

Pm protocol in India

Pm protocol in India : देश में इस वक्त प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर चारो ओर हल्ला मचा हुआ है। हुआ कुछ यूं था कि पंजाब में फिरोजपुर जिले के मुदकी के पास नेशनल हाईवे पर कुछ प्रदर्शनकारी किसानों ने PM मोदी का रास्ता रोक लिया।

इसके बाद एक फ्लाई ओवर पर प्रधानमंत्री का काफिला 20 मिनट तक रुका रहा। पीएम को वहां जनता का विरोध भी झेलना पड़ा। बाद में पीएम को दौरा कैंसिल कर वापस दिल्ली लौटना पड़ा।

इसके बाद PM मोदी की सुरक्षा (Pm protocol in India) को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। जैसे- PM मोदी की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है? PM की सड़क या हवाई यात्रा के दौरान क्या प्रोटोकॉल होता है?

आइए, PM मोदी की सुरक्षा के पूरे स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर को समझते हैं…

देश के प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्‍मेदारी स्‍पेशल प्रोटेक्‍शन ग्रुप, यानी SPG की होती है। प्रधानमंत्री के चारों ओर पहला सुरक्षा घेरा SPG जवानों का ही होता है।

READ:  How do 5G signals affect air travel? Explained

PM की सुरक्षा में लगे इन जवानों को अमेरिका की सीक्रेट सर्विस की गाइडलाइंस के मुताबिक ट्रेनिंग दी जाती है। इनके पास MNF-2000 असॉल्ट राइफल, ऑटोमेटिक गन और 17 एम रिवॉल्वर जैसे मॉडर्न हथियार होते हैं।

Who is Responsible for PM Modi’s security Breach, Is it really a state?

किसी राज्य में PM के दौरे के समय 4 एजेंसियां सुरक्षा व्यवस्था देखती हैं- SPG, ASL, राज्य पुलिस और स्थानीय प्रशासन।

स्थानीय प्रशासन पुलिस के साथ मिलकर काम करती है

एडवांस सिक्योरिटी संपर्क टीम (ASL) प्रधानमंत्री के दौरे से जुड़ी हर जानकारी से अपडेट होती है। ASL टीम केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी के संपर्क में होती है। केंद्रीय एजेंसियों के अधिकारी ASL की मदद प्रधानमंत्री के दौरे की निगरानी रखते हैं।

स्थानीय पुलिस PM के दौरे के समय रूट से लेकर कार्यक्रम स्थल की सुरक्षा संबंधी नियम तय करती है। आखिरकार पुलिस के निर्णय की निगरानी SPG अधिकारी ही करते हैं। केंद्रीय एजेंसी ASL प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल और रूट की सुरक्षा जांच करता है।

READ:  India Nepal border dispute: what we know so far

Who is Neeraj Bishnoi, Bulli Bai app creator

इसके साथ ही SPG PM के करीब आने वाले लोगों की तलाशी और प्रधानमंत्री के आसपास की सुरक्षा को देखता है। स्थानीय प्रशासन पुलिस के साथ मिलकर काम करते हैं।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterInstagram, and Whatsapp. For suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com