Ram Mandir: अयोध्या पहुंचे पीएम मोदी, राम मंदिर भूमिपूजन शुरू, पढ़िए पूरी कार्यक्रम सूची

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अयोध्या में राम मंदिर(Ram Mandir) शिलान्यास के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या पहुंच चुके हैं. पूरी रात तैयारियों का सिलसिला चलता रहा. पीएम मोदी ने आरती कर अयोध्या राम जन्मभूमि स्थित श्री राम के सिंहासन पर माथा टेका. भूमिपूजन में इस्तेमाल होने वाली सामग्रियां भी लाई जा चुकी है. ज्यादातर आमंत्रित अतिथि पहले ही अयोध्या पहुंच चुके हैं.

Ram Mandir: अयोध्या में भूमिपूजन के लिए कैसी हैं तैयारियां?

तय कार्यक्रमों की समय सूची

  • 12 बजे राम जन्मभूमि परिसर पहुंचने का कार्यक्रम
  • 10 मिनट में रामलला विराजमान के दर्शन-पूजन
  • 12:15 बजे रामलला परिसर में पारिजात का पौधारोपण
  • 12:30 बजे भूमिपूजन कार्यक्रम का शुभारंभ
  • 12:40 पर राम मंदिर की आधारशिला की स्थापना
  • 1.10 पर नृत्यगोपाल दास वेदांती जी सहित ट्रस्ट कमेटी से करेंगे भेंट
  • 2:05 पर साकेत कॉलेज हेलीपैड के लिए प्रस्थान
  • 2:20 पर लखनऊ के लिए उड़ेगा हेलीकॉप्टर

Ayodhya Ram Mandir: राम मंदिर के नीचे रखा जायेगा Time Capsule, जानिये क्या है टाइम कैप्सूल?

सभी तैनात सुरक्षाकर्मी है कोरोना नेगेटिव

राम मंदिर भूमिपूजन में जो भी सुरक्षाकर्मी तैनात हैं उन सभी का पहले कोरोना टेस्ट कराया जा चुका है. जो लोग कोरोना नेगेटिव हैं सिर्फ उन्हीं को ड्यूटी पर लगाया गया है. और उन्हीं लोगों को मंदिर में आने की इजाजत है.

कोरोना से बचाव के लिए किए गए है पुख्ता इंतजाम

कोरोनाकाल में हो रहे राममंदिर भूमिपूजन के लिए सुरक्षा के पुख़्ता इन्तजाम किए हैं. सारे कोविड-19 से जुड़े प्रोटोकॉल फ़ॉलो किए जा रहे हैं. सभी अतिथियों को मास्क और फेस शील्ड उपलब्ध कराए जाएंगे. साथ ही बैठने के लिए कुर्सियां भी आठ फ़ीट की दूरी पर रखी गई हैं. कोरोना के कारण काफी कम लोगों को राममंदिर भूमिपूजन के लिए आमंत्रित किया गया है. गेस्ट लिस्ट में 190 से कम लोग शामिल किए गए थे.

भूमिपूजन के लिए मंगाए गए है विशेष गुलाब के फूल

राम मंदिर भूमि पूजन को भव्य बनाने के लिए ट्रस्ट की तरफ से हर संभव कोशिश की गई है. रामलला के आसन को सजाने के लिए मुंबई से विशेष गुलाब मंगाए गए हैं. जिन पर रामलला का नाम और तस्वीर को उकेरा गया है. गुलाब पर नाम उकेरने वाले अशोक भानुसाली और कविता भानुसाली बताते हैं कि ” ये सभी गुलाब हफ्ते भर में तैयार किए गए हैं. रामलला के आसन और भूमि पूजन में कुल 500 गुलाब लगेंगे.”

अलग अलग जगह से मंगवाई गई मिट्टी और जल

भूमिपूजन के लिए कई नदियों का पवित्र जल मंगवाया गया है. गंगा, यमुना, गोदावरी, नर्मदा, कृष्णा, कावेरी, सिंधु, ब्रह्मपुत्र, सतलुज, रावी, चिनाब, व्यास समेत अन्य कई नदियों का पानी मंगवाया गया है. हल्दीघाटी, चित्तौड़, दुर्ग, स्वर्ण मंदिर के कुंड का जल व मिट्टी, वैष्णो देवी, मैसेकर घाट, सभी ज्योतिर्लिंगों के प्रांगण की मिट्टी भी मंगवाई गई है.

अयोध्या में गाड़ियों का प्रवेश बंद

प्रधानमंत्री के आगमन के लिए सुरक्षा के कड़े इन्तजाम किए गए हैं. अयोध्या नगरी के बाहर और अंदर कई नाके बनाए गए हैं जहां गाड़ियों की चेकिंग की जा रही हैं. बाहर से आने वाले वाहनों को अयोध्या में आने की इजाजत नहीं है. जनता से अपील की गई है कि वह घरों में ही रहकर जश्न मनाएं. जनता के लिए भूमिपूजन का सीधा प्रसारण किया जाएगा.

ये लेख स्वाति गौतम और कीर्ति रावत ने लिखा है. स्वाति और कीर्ति ग्राउंड रिपोर्ट में शिक्षा, राजनीति व किसानो से जुड़े मुद्दों पर लिखती हैं.

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups