पीएम मोदी ने लगवाई इस कंपनी की वैक्सीन, जानिए आपका नंबर कब आएगा

पीएम मोदी ने लगावाई वैक्सीन
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारत में जब वैक्सीनेशन शुरु हुआ था तब विपक्ष की ओर से कहा गया था कि वैक्सीन सबसे पहले प्रधानमंत्री मोदी को लगवानी चाहिए, इससे लोगों में वैक्सीन के सुरक्षित होने को लेकर विश्वास बढ़ेगा। लेकिन तब प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों और कोरोना वॉरियर्स को ही टीका लगेगा। अब देश में वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरु हो चुका है इसमें देश के बुज़ुर्गों को टीका लगाया जा रहा है। इस चरण में प्रधानमंत्री मोदी ने भी कोरोना का टीका लगवा लिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स) में टीके की पहली खुराक लगवाई। बताया जा रहा है कि पीएम मोदी ने भारत बायोटेक की वैक्सीन लगवाई है। तस्वीर में नर्स पीएम मोदी को टीका लगाती दिखाई दे रही है। नर्स ने बताया कि पीएम मोदी को भारत बायोटेक के कोवाक्सिन की पहली खुराक दी गई है, दूसरी खुराक 28 दिनों में दी जाएगी। उन्होंने मुझसे पूछा कि टीकाकरण के बाद हम कहां के हैं? उऩ्होंने कहा, “लगा भी दी, पता भी नहीं चला।”

READ:  Delhi Covid-19: क्या दिल्ली में लग सकता है संपूर्ण लॉकडाउन?

ALSO READ: How To Register For Corona Vaccine?

वैक्सीनेशन के दूसरे चरण से जुड़े कुछ अहम सवाल और उनके जवाब

वैक्सीनेशन का दूसरा चरण आज यानि 1 मार्च से शुरु हो गया है। इस चरण में 60 साल से ऊपर के लोग और 45 साल से अधिक उम्र के वो लोग जिन्हें गंभीर बीमारी है टीका लगवा सकते हैं।

कैसे होगा रजिस्ट्रेशन?

जो लोग भी टीका लगवाना चाहते हैं उन्हें सरकार के कोविन 2.0 एप पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। CoWIN 2.0 पोर्टल पर पंजीकरण आज सुबह 9 बजे खुलेगा। जानकारी के लिए लोग cowin.gov.in देखें.।

कहां जाना होगा टीका लगवाने?

आयुष्मान भारत PMJAY के तहत 10,000 से अधिक निजी अस्पतालों, सीजीएचएस के तहत 600 से अधिक अस्पतालों और अन्य निजी अस्पतालों को सरकारी योजनाओं के तहत टीकाकरण केंद्रों के रूप में सूचीबद्ध में किया गया है। इन्हीं केंद्रों पर आपको टीका लगवाने जाना होगा।

READ:  Coronavirus के डर से Holi खेले या नहीं?

क्या निजी अस्पतालों में लगाव सकते हैं वैक्सीन?

जी हां आप प्राईवेट हॉस्पिटल में भी वैक्सीन लगवा पाएंगे। निजी अस्पताल कोविड-19 वैक्सीन की प्रति खुराक 250 रुपये शुल्क वसूल सकते हैं। सरकार द्वारा चयनित प्राईवेट हॉस्पिटल पर ही जाएं।

क्या टीकाकरण केंद्र हम चुन सकते हैं?

टीकाकरण का दूसरा चरण छह सप्ताह चलेगा। पात्र लाभार्थी अपनी पसंद का केंद्र चुन सकते हैं और उपलब्ध स्लॉट के आधार पर अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं।

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@gmail.com पर मेल कर सकते हैं।