Home » ऑक्सीजन टास्क फोर्स में शामिल 12 लोग कौन हैं? ये Task Force कैसे काम कर रही है?

ऑक्सीजन टास्क फोर्स में शामिल 12 लोग कौन हैं? ये Task Force कैसे काम कर रही है?

oxygen supply task force team
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

oxygen supply task force team: सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन का वैज्ञानिक तरीके से वितरण और आपूर्ति के लिए टास्क फोर्स (oxygen supply task force team) बनाई है। इस टास्क फोर्स में 12 सदस्य हैं। उच्चतम न्यायालय के इस कदम से साफ है की ऑक्सीजन आपूर्ती पर केंद्र के रवैये मौजूदा हालात से संतुष्ट नहीं है कोर्ट ने कहा है कि टास्क फोर्स (oxygen supply task force team) तुरंत काम करना शुरू करें और सरकार व सुप्रीम कोर्ट को रिपोर्ट सौंपे। जिससे उन्हें हर चीज के बारे में मालूमात होती रहे की हमने जो फार्मूला बनाया है उस हिसाब से काम हो भी रहा है या नहीं।

डिस्ट्रिब्यूशन का फार्मूला
रोजाना 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई के बावजूद भी ऑक्सीजन संकट खत्म नहीं हो रहा है इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन की कमी की पूर्ति करने के लिए टास्क फोर्स बनाई जिससे लोगों को कुछ मदद मिल सके इस दल केंद्र सरकार, राज्य सरकारे और अस्पतालों को बराबर मदद प्रदान करेंगे और अपने इस फॉर्मूले का सही तौर पर उपयोग करेंगे।

घर पर ही संभव है कोरोना का इलाज, पर बरतें जरूरी सावधानियां

READ:  Jaipur rape case : बच्ची से दरिंदगी करने वालों को कोर्ट ने सुनाई 20 साल की सजा, 5 दिन में पहुंचाया अपराधियों को जेल के भीतर

टास्क फोर्स की नजर सप्लाई और आपूर्ती पर
अस्पताल में भर्ती के लिए आपको अब नही देना पड़ेगा कोरोना रिपोर्ट क्योंकि टास्क फोर्स इस बात पर नजर रखेगी की कहाँ पर सप्लाई घट बढ़ रही है फिर वो इसी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट को रिपोर्ट भेजेगी कोर्ट ने कहा कि जब तक टास्क फोर्स नए सुझाव नहीं देता, केंद्र सरकार मौजूद व्यवस्था के अन्तर्गत राज्यों को गैस का आवंटन करता रहेगा। और जनता को बराबर ऑक्सीजन मिलता रहेगा केंद्र ने इसके पहले कोर्ट से गुजारिश की थी की वह जांच करवा कर विभिन्न राज्यों की ऑक्सीजन जरूरतों को पूरा करवाऐ।

टास्ट फोर्स में कई नामी डॉक्टर लेकिन एम्स निदेशक रणदीप गुलेरिया नहीं
सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित की गई टास्क फोर्स में देश भर के नामी ग्रामी अस्पतालों के प्रमुख डॉक्टरों को भी शामिल किया गया है लेकिन इस टास्क फोर्स में काफी मशहूर डॉक्टर एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया और मैक्स हेल्थकेअर के डॉक्टर संदीप बुद्धिराजा को शामिल नही किया गया है।

मोदी सरकार के 5 बड़े घोटाले, जिनके सबूत मिटाने पर जुटी है सरकार

टास्क फोर्स में ये 12 प्रमुख लोग शामिल
सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित टास्क फोर्स में वेस्ट बंगाल यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज कोलकाता के पूर्व वीसी डॉ. भबतोष बिश्वास, सर गंगाराम हॉस्पिटल दिल्ली के चेयरमैन डॉ. देवेंदर सिंह राणा, नारायणा हेल्थ केयर बेंगलुरू के चेयरपर्सन और एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डॉ. देवी प्रसाद शेट्टी, क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज वेल्लोर की प्रोफेसर डॉ. गगनदीप कांग, तमिलनाडु में क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज के ही डायरेक्टर डॉ. जेवी पीटर शामिल हैं।

READ:  All you need to know about UGC Scholarship For College students

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।