odisha coronavirus madhusmita cremate unclaimed bodies

देश की वो महिला जो अब तक करीब 500 कोरोना संक्रमित शवों का कर चुकी है अंतिम संस्कार

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Odisha coronavirus madhusmita cremate unclaimed bodies: वो कहते हैं ना मान लो तो हार ठान लो तो जीत। कुछ इसी तरह के ठाने हुए साहस के साथ ओडिशा की मधुस्मिता ने अपनी पहचान बनाई है। मधुस्मिता को सोशल मीडिया पर वायरल स्टोरी के साथ शव का अंतिम संस्कार करने वाली मसीहा कहा जा रहा है। जो कि अपने पति के साथ लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करने का काम कर रही हैं। (Odisha coronavirus madhusmita cremate unclaimed bodies)

कोरोना काल में मिसाल बनीं मधुस्मिता भुवनेश्वर ओडिशा की रहने वाली हैं। वह साल 2011 से लेकर साल 2019 तक कोलकाता के फोर्टिस अस्पताल में बाल रोग विभाग में बतौर नर्स कार्यरत थी। वहां निस्वार्थ भाव से 9 साल तक के बच्चों की सेवा करती थी। लेकिन साल 2019 में उन्हें अपनी कोलकाता से नर्स की नौकरी छोड़नी पड़ी।

READ:  Covid19 Vaccine: वैक्सीन लगवाने के बाद इन 8 बातों का ध्यान जरूर रखें

घर पर ही संभव है कोरोना का इलाज, पर बरतें जरूरी सावधानियां

उनके मुताबिक उनके पति को उनकी ज्यादा आवश्यकता थी। मधुस्मिता ने बताया कि साल 2019 में उन्होंने नर्स की नौकरी इसलिए छोड़ी थी क्योंकि उनके पति शवों का अंतिम संस्कार नहीं कर पा रहे थे। जिसके चलते उन्हें उड़ीसा आकर अपने पति की मदद करनी पड़ी। उन्होंने यह भी बताया कि अब तक वे 300 से 500 लाशों का अंतिम संस्कार कर चुकी है और आगे भी इस कड़ी को बढ़ाने वाली है।

उनके पति प्रदीप कुमार का कहना है कि वह पिछले 11 वर्षों से शवों का अंतिम संस्कार कर रहे हैं। वे इस काम के अलावा सब्जी बेचने का काम भी करते हैं। बता दें कि देश में पहले कोरोना की रफ्तार काफी कम हुई है। हांलाकि कोरोना पूरी तरह अभी खत्म नहीं हुआ है। कई राज्यों में लॉकडाउन भी बढ़ा दिया गया है। दिल्ली, मध्य प्रदेश सहित अन्य कई राज्यों में लॉकडाउन 31 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

READ:  3000 डॉक्टरों ने दिया इस्तीफा तो सरकार ने थमाया हॉस्टल खाली करने का नोटिस

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।


%d bloggers like this: