Voting boycott in Bihar

मध्य प्रदेश उपचुनाव : अब अपने घर बैठे दे सकेंगे वोट, इन मतदाताओं के मिल रही ये विशेष सुविधा..

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में पहली बार मतदाओं को घर से ही वोट डालने की सुविधा मिलने जा रही है। यह मोबाइल पोलिंग टीम होगी, जो ऐसे मतदाताओं के घर जाकर बाकायदा फोल्डिंग टेबल पर कंपार्टमेंट बनाएगी। इसके बाद यहीं पर पोस्टल बैलेट से मतदान कराया जाएगा। दरअसल बुजुर्ग,दिव्यांग और कोरोना पीड़ित मतदाताओं के घर पर पहली बार मतदान केंद्र आएगा।

मध्य प्रदेश उपचुनाव : चुनावी सभा में अब इतने लोग हो सकेंगे शामिल, देखें नई गाइडलाइन

उप जिला निर्वाचन अधिकारी,ग्वालियर आशीष तिवारी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि इस बार कोरोना संक्रमण के कारण आयोग की ओर से कोरोना प्रोटोकॉल भी जारी किया गया है। बुजुर्ग,दिव्यांग और कोविड पीड़ित मरीजों के लिए पोस्टल बैलेट का विकल्प रखा गया है। उनके घर पर जाकर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया जाएगा।

ALSO READ:  Madhya Pradesh By-elections : क्या ख़रीद-फरोख़्त की राजनीति करके उपचुनाव जीत पाएगी बीजेपी ?

इन लोगों को मिलगी ये विशेष सुविधाएं

  • बुजुर्ग,दिव्यांग के साथ कोविड पीड़ित मरीज के प्रपत्र भी 13 अक्टूबर तक भरवाए जाएंगे। इसके बाद मतदान के दिन जो कोरोना पीड़ित होंगे वे पीपीई किट पहनकर मतदान दिवस के समय में आखिरी घंटे में मतदान कर सकेंगे। इस दौरान मतदान केंद्र का पूरा स्टाफ भी पीपीई किट पहनेगा।
  • खास बात यह कि इस श्रेणी के मतदाता अगर खुद मतदान केंद्र में आकर मतदान करना चाहते हैं तो वह आ सकते हैं। आयोग की ओर से ऐसे मतदाताओं के लिए वाहन व्यवस्था भी किए जाने के निर्देश गए हैं। घरों पर पोस्टल बैलेट से होने वाला मतदान की वीडियोग्राफी होगी।
  • पोलिंग मोबाइल यूनिट के माध्यम से यह कार्य संभव होगा। 13 अक्टूबर तक बुजुर्ग-दिव्यांग की श्रेणी में आने वाले आठ हजार से ज्यादा ऐसे मतदाता और कोविड पीड़ितों को पोस्टल बैलेट के लिए प्रपत्र भरवाए जा रहे हैं।
  • पोस्टल बैलेट के लिए मोबाइल पोलिंग टीम के साथ बीएलओ भी मतदाता का घर दिखाने जाएगा, लेकिन मतदान दल के साथ घर के अंदर दाखिल नहीं होगा। बीएलओ घर- घर जाकर 12डी फॉर्म दे रहे हैं, जिसमें रिटर्निंग ऑफिसर का पता लिखा होगा।
  • यदि बीएलओ को मतदाता घर पर नहीं मिलता है तो वह अपना मोबाइल नंबर घर पर फॉर्म के साथ दर्ज कराकर जाएंगे। उन्हें फोन करके मतदाता भरा फॉर्म ले जाने के लिए कॉल कर सकता है।
  • घर में मतदान कराने के लिए एक फोल्डिंग टेबल, वोटिंग कंपार्टमेंट ,स्टाम्प पैड,मतदान दल के लिए वाहन व्यवस्था,कोविड बचाव के सभी प्रबंध व पोस्टल बैलेट के लिए आवश्यक सामग्री उपलब्ध रहेगी।
  • एक मोबाइल पोलिंग यूनिट एक दिन में 20 घरों में मतदान कराएगी। इसके लिए रिटर्निंग ऑफिसर से फॉर्म-12 डी में आवेदन मिलने के बाद कार्ययोजना अनुसार पोस्टल बैलेट डलवाए जाएंगे।
ALSO READ:  MP उपचुनाव: कांग्रेस ने जारी की पहले 15 उम्मीदवारों की सूची

‘शिवराज एक जेब में 50 करोड़ का तो दूसरी जेब में 50 हजार करोड़ का नारियल रखते हैं, जहां मौका मिलता है फोड़ देते हैं’

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।