Home » निकिता तोमर हत्याकांड: एकतरफा प्यार, अपहरण और हत्या की नाटकीय कहानी

निकिता तोमर हत्याकांड: एकतरफा प्यार, अपहरण और हत्या की नाटकीय कहानी

निकिता मर्डर केस बल्लभगढ़
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बल्लभगढ़ में हुआ निकिता तोमर हत्याकांड काफी सुर्खियों में है इसकी वजह है एस सरफिरा आशिक जिसने एकतरफा प्यार के चलते निकिता तोमर का मर्डर कर दिया। इस केस पर सियासत भी गर्म है क्योंकि लड़का मुस्लिम है और लड़की हिंदू। 26 अक्टूबर 2020 को मृतक लड़की निकिता के भाई नवीन ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि शाम 4:00 बजे के आसपास उसकी 20 वर्षीय बहन अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर निकली थी, थोड़ी दूर चलने पर आरोपी ने लड़की को जबर्दस्ती अपनी गाड़ी में बिठाने का प्रयास किया, लड़की द्वारा विरोध करने पर आरोपी उसे गोली मारकर अपने एक अन्य साथी सहित कार में फरार हो गया था।

ALSO READ: UP और MP में मेरे नेतृत्व में बनी BJP की सरकार , इस कारण मैंने मुख्यमंत्री बनने से कर दिया था मना !

निकिता तोमर मर्डर केस की पूरी टाईमलाईन

  1. 21 वर्षीय तौसिफ फिजियो थेरेपिस्ट का कोर्स कर रहा है। शुरुआती जांच के मुताबिक, उसने इस वारदात को अकेला अंजाम नहीं दिया। इसमें उसके दोस्त रेहान ने भी मदद की।
  2. तौसिफ एक राजनीतिक रसूखदार परिवार से संबंध रखता है। उसके दादा कबीर अहमद विधायक रह चुके हैं, जबकि चाचा खुर्शीद अहमद हरियाणा के पूर्व मंत्री रहे हैं।
  3. निकिता ने जिस प्राइवेट स्कूल में पांचवीं से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई की, उसी स्कूल में आरोपी तौशीफ भी पढ़ता था। वह, यहां हॉस्टल में रहता था। इसी दौरान वह निकिता से एकतरफा प्यार करने लगा।
  4. अगर आरोपों को सही मानें तो उसने 2018 में निकिता का अपहरण कर लिया था। उसके खिलाफ बल्लभगढ़ थाने में मामला भी दर्ज किया गया था। इस समय निकिता नाबालिग थी।
  5. तौशीफ और उसके परिवार वालों ने माफी मांग ली, जिसके बाद निकिता के पिता ने मुकदमा वापस ले लिया। हालांकि, तौशीफ का एकतरफा प्यार खत्म नहीं हुआ।
  6. आरोप है कि तौशीफ को जब उसका प्यार नहीं मिला तो उसने निकिता की जीवनलीला समाप्त करने की ठान ली। सोमवार को फरीदाबाद में मिल्क प्लांट रोड पर अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौट रही निकिता तोमर की उसने गोली मारकर हत्या कर दी।
  7. लहूलुहान हालत में निकिता को को पास के निजी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक वह दुनिया छोड़ चुकी थी। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हालांकि कथित तौर पर हत्या के बाग तौशीफ मौके से फरार होने में सफल रहा, लेकिन सीसीटीवी ने उसकी हर हरकतों को कैद कर लिया।
  8. पुलिस के हाथ लगे सीसीटीवी फुटेज से पहले तो दोनों आरोपियों की पहचान हुई। बाद में उन्हें धर दबोचा गया।
READ:  Complete Lockdown Again in India?: क्या देश में फिर लगने वाला है लॉकडाउन?

ALSO READ: Haryana: Girl Shot dead, Family alleges Taufeeq pressurized her to convert Islam

लव जेहाद का क्या है एंगल?

निकिता के परिजनों का कहना है कि आरोपी ने वर्ष 2018 में भी निकिता के अपहरण का प्रयास किया था। वह उसे मुस्लिम बनाकर उससे शादी करने का दबाव बना रहा था। उस वक्त पुलिस में आरोपी की शिकायत की गई थी, लेकिन उस समय पुलिस के कथित दबाव और आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं किए जाने पर उन्होंने लोकलाज के चलते समझौता कर लिया था। उन्होंने कहा कि पुलिस की इस ढिलाई की कीमत निकिता को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी।

READ:  उत्तर प्रदेश में Coronavirus और Lockdown की बदहाली बताते-बताते कैमरे पर रो पड़ा रिपोर्टर

अब इस मामले को लेकर सियासत गर्मा गई है। मुस्लिम लड़कों द्वारा हिंदू लड़कियों को प्यार के जाल में फंसाकर उनका जबरन धर्मांतरण कराने के आरोप कई हिंदूवादी पार्टियां लगाती रही हैं। इसे लव जेहाद का नाम दिया जाता है। निकिता तोमर मर्डर केस में भी जबरन धर्मांतरण की बात सामने आने पर बवाल हुआ है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।