Home » न्यूज़ एंकर निधी राज़दान ने NDTV को कहा अलविदा, करेंगी नई शुरुवात

न्यूज़ एंकर निधी राज़दान ने NDTV को कहा अलविदा, करेंगी नई शुरुवात

निधी राज़दान का एनडीटीवी से इस्तीफा
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

टीवी न्यूज़ चैनल एनडीटीवी की जानी-मानी न्यूज़ एंकर निधी राज़दान ने शनिवार को ऐलान किया कि वो एनडीटीवी को अलविदा कह रही हैं। निधी राज़दान ने ट्वीट कर कहा कि अब वे हारवर्ड युनिवर्सिटी में असोसिएट प्रोफेसर के तौर पर काम करेंगी। निधी राज़दान 21 सालों से एनडीटीवी में काम कर रही थीं। उनके अचानक चैनल छोड़ने की खबर से उनके प्रशंसकों में निराशा है।

निधी राज़दान ने भावुक ट्वीट कर कहा कि एनडीटीवी उनके घर की तरह रहा, उन्हें एनडीटीवी का हिस्सा रहने पर हमेशा गर्व रहेगा। उन्हें एनडीटीवी की पत्रकारिता पर गर्व है। ऐसे समय में जब देश के दूसरे मीडिया संस्थान अपनी निश्पक्षता खो रहे हैं, एनडीटीवी अपने मूल्यों पर खड़ा हुआ है।

निधी राज़दान पिछले दो दशक में अंग्रेजी पत्रकारिता में बड़ा नाम बनकर उभरी। हाल ही में उन्हें कठुआ रेप और मर्डर मामले में रिपोर्टिंग के लिए इंटर्नेशनल प्रेस इंस्टीट्यूट ने एक्सीलेंस इन जर्नलिज़्म अवार्ड से नावाज़ा। निधी राज़दान एनडीटीवी का प्रमुख चेहरा रहीं, NDTV 24*7 पर उनका कार्यक्रम लेफ्ट, राईट सेंटर एनडीटीवी के प्राईम टाईम का खास शो रहा। इसी नाम से उनकी एक किताब भी 2017 में प्रकाशित हुई।

एनडीटीवी को अलविदा कहते हुए निधी राज़दान ने एनडीटीवी के संस्थापक प्रणय रॉय और राधिका रॉय को धन्यवाद कहते हुए कहा कि 22 साल की उम्र में आपने मुझे मौका दिया और मुझपर भरोसा जताया इसके लिए शुक्रिया।

आपको बता दें की एनडीटीवी देश के सबसे पुराने प्राईवेट न्यूज़ चैनलों में से एक है। देश के तमाम बडे़ न्यूज़ एंकर एनडीटीवी का हिस्सा रहे हैं। हाल ही में कई बड़े पत्रकार इस चैनल का साथ छोड़ चुके हैं। बरखा दत्त के बाद एनडीटीवी से जाने वाली निधी राज़दान दूसरा सबसे बड़ा चेहरा होंगी।

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।