new year 2021 restrictions emphasis on many places due to coronavirus guideline

न्यू ईयर पार्टी मनाने से पहले हो जाएं सावधान, कई जगह लगा दिया गया है नाइट कर्फ्यू

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

New Year 2021 Celebration Coronavirus Guideline : न्यू ईयर 2021 को लेकर शख्स उत्साहित है और बीते वर्ष 2020 के फेज़ कोरोना, लाकडाउन जैसी तमाम चीजों को भूलाकर लोग एक नई शुरूआत का प्लान कर रहे हैं लेकिन वहीं प्रशासनिक स्तर पर देश भर में कवायद शुरू हो चुकी है कि न्यू ईयर पर पार्टी (New Year 2021 Celebration Coronavirus Guideline), भीड़ और शराब पर नकेल कसने की। कोरोना वायरस कहर और उसके नए स्ट्रेन मिलने के बाद सरकार और प्रशासन नए साल के कार्यक्रम आयजनों में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं चाहते हैं और अगर ऐसा होता है तो इसके जिम्मेदार सीधे तौर पर आयोजक होंगे। (New Year 2021 Celebration Coronavirus Guideline)

दिल्ली में नाइट कर्फ्यू
प्रशासन द्वारा युवाओं को शराब ना देने के निर्देश जारी किए गए हैं, वहीं लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू की समयावधि भी बढ़ा दी गई है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। इसके मुताबिक सार्वजनिक स्थानों पर पांच से ज्यादा लोग नहीं इकट्ठा नहीं हो सकते। जबकि नए साल के जश्न का कार्यक्रम भी नहीं होगा। (New Year 2021 Celebration Coronavirus Guideline) मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में दिल्ली आपदा प्राधिकरण की ओर से कहा गया है सार्वजनिक स्थानों पर 31 दिसंबर को 11:00 बजे से 1 जनवरी की सुबह 6 बजे तक और 1 जनवरी की शाम 11 बजे से 2 जनवरी सुबह 6 बजे तक किसी भी सार्वजनिक बैठक या सभा की अनुमति नहीं है।

READ:  बिहार चुनाव में महिलाओं का स्वास्थ्य क्यों हो प्रमुख चुनावी मुद्दा, पढ़ें अंकिता आनंद की विशेष रिपोर्ट

1400KM साइकिल चला गिरफ्तारी देने पहुंचा मजदूर, पुलिस ने पहनाई माला, सेल्फी ली फिर ससम्मान जेल भेजा

पंजाब में जारी की गई गाइडलाइन
वहीं पंजाब सरकार ने कोविड-19 (Coronavirus) दिशा-निर्देशों का पालन करने का अनुरोध किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में सरकार की ओर से एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि रात को कर्फ्यू से जुड़ी पाबंदियां सभी शहरों और कस्बों में 31 दिसंबर तक प्रभावी रहेंगी।

उत्तर प्रदेश में जारी किए गए निर्देश
वहीं दिल्ली ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कोरोना के खतरे को भांपते हुए नए साल के जश्न को देखते हुए नोटिस जारी किया है। इस मामले में उत्तर प्रदेश में सरकार ने कहा है कि अगर किसी भी जिले में कोई भी कार्यक्रम का आयोजन होता है तो इसके लिए पहले जिलाधिकारी या कमिश्नरेट से परमिशन लेनी होगी और इस दौरान परमिशन देते समय अधिकारी आयोजक का नाम पता नंबर और आमंत्रित लोगों की अनुमानित संख्या भी पूछेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में मुख्य सचिव की ओर से जारी एक आदेश में कहा गया है कि आयोजन से पहले आयोजक स्पष्ट करें कि कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन होगा और किसी भी तरह की अनहोनी होने पर जिम्मेदारी उन्हीं की होगी। ऐसे कार्यक्रमों में मास्क, सैनेटाइजर का इंतजाम रखने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया जाना सुनिश्चित करना होगा।

READ:  कौन हैं जम्मू-कश्मीर का नया उपराज्यपाल बनने वाले मनोज सिन्हा ?

Coronavirus Treatment at Home: मध्य प्रदेश के इन 7 शहरों में पहुंची ‘घातक लहर’, देखें कोरोना का इलाज घर पर कैसे करें?

मध्य प्रदेश में भी आयोजनों को मॉनिटर करेगा प्रशासन
वहीं दिल्ली, पंजाब और उत्तर प्रदेश के अलावा मध्य प्रदेश में भी नए साल पर इसी तरह के नियम लागू किए गए हैं। प्रदेश की आर्थिक राजधानी माने जाने वाले इंदौर में प्रशासन ने 21 साल से कम उम्र के लोगों को शराब बिक्री रोकने के कानूनी प्रावधान को सख्ती से लागू करने की तैयारी की है। इसके साथ ही कोरोना गाइडलाइन का पालन हो इसके लिए विशेष तौर पर निगरानी की जाएगी। राजधानी भोपाल में भी पार्टी के आयोजनों को मॉनिटर किया जाएगा।

READ:  राम मंदिर भूमि पूजन के समय अपने भजनों से सुर्खियां बटोरने वाले भजन गायक देवेंद्र पाठक पर रेप और गर्भपात कराने का आरोप

घर पर ही संभव है कोरोना का इलाज, पर बरतें जरूरी सावधानियां

कर्नाटक, बेंगलुरू में भी नाइट कर्फ्यू
वहीं कर्नाटक में भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। नए साल के जश्न में होने वाली गेट-टू-गेदर और पार्टी में जुटने वाली भीड़ और कोरोना के खतरे को देखते हुए यहां नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। भीड़ इक्ट्ठा न हो इसके लिए बेंगलुरु समेत पूरे कर्नाटक में सख्त नियम लागू कर दिए गए हैं। इस मामले में कर्नाटक के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने बुधवार जानकारी देते हुए कहा कि राज्य और शहर के लिए जारी दिशा-निर्देशों और प्रतिबंधों के संबंध में उन्होंने शहर के पुलिस उपायुक्त और राज्य के पुलिस महानिदेशक से बात की थी। बेंगलुरु शहर में 31 दिसंबर की शाम छह बजे से लेकर एक जनवरी की सुबह छह बजे तक पार्टी के आयोजनों, भीड़ जुटाने पर मनाही रहेगी।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।