Home » तीसरी लहर रोकने के लिए रोज़ एक करोड़ टीके लगाना ज़रूरी : एक्सपर्ट्स

तीसरी लहर रोकने के लिए रोज़ एक करोड़ टीके लगाना ज़रूरी : एक्सपर्ट्स

Third Wave | तीसरी लहर रोकने के लिए रोज़ एक करोड़ टीके लगाना ज़रूरी
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk | Third Wave | टीके उपलब्ध कराने की ज़िम्मेदारी केंद्र के हाथों में आते ही भारत में टीकाकरण का नया दौर शुरू हो गया, इस नई रणनीति के पहले दिन यानी 21 जून को 80 लाख लोगों को वैक्सीन की खुराक देकर सरकार ने नया कीर्तिमान भी बना लिया। विशेषज्ञों के मुताबिक अगर यह गति को बनाये रखने में सरकार सफल होती है तो भी कोरोना की तीसरी लहर (Third Wave) को रोकना कठिन होगा क्योकि अब भी पर्याप्त टीकाकरण नहीं हो रहा।

21 जून को बड़ी संख्या दिखा कर पब्लिसिटी करने के लिए, सरकार की कुछ दिन पहले से स्टॉक रोक कर एक दिन लगा देने वाली योजना पहले ही काफी आलोचनाओं का शिकार हो चुकी है। वैज्ञानिकों से जब इसपर राय मांगी गयी तो उन्होंने कहा की राज्यों द्वारा फ़र्ज़ी उछाल काफी घातक साबित हो सकती है। शोधकर्ताओ के मुताबिक देश में रोज़ एक करोड़ लोगों को टीका लगना ज़रूरी है तभी तीसरी लहर से बचा जा सकता है। केंद्र सरकार ने वादा किया था की वह इस वर्ष के अंत तक सभी को टीका लगा देंगे।

READ:  Covid third wave may hit India in August, peak in September: SBI report

टीकाकरण की ज़िम्मेदारी सरकार के लिए पब्लिसिटी का बहाना ?

दूसरी लहर के वक़्त वैक्सीन की ज़रूरत के वजह से टीकों का निर्यात बंद कर दिया गया था। आने वाले माह में वैक्सीन की ज़रूरत पूरी करने के लिए रूस की वैक्सीन स्पुतनिक का उत्पादन भारत में होगा, इसके साथ कई अन्य वैक्सीन भी है जिन्हे अप्रूवल मिला है और सितम्बर तक वह मिलना शुरू हो जाएगी। ऐसे में कयास लगाए जा रहे है की भारत सरकार द्वारा किया गया वादा शायद सही साबित हो जाये। भारत में अभी तक 30 करोड़ से अधिक लोगों को कम से कम पहला डोज़ दिया जा चुका है।

दूसरी लहर अब अपने अंतिम दौर में आ चुकी है, दैनिक मामलों में पहले के मुकाबले भारी गिरावट सामने आयी है, कई राज्यों में अनलॉक भी शुरू हो गया है और स्थिति सामान्य स्तर तक पहुंच रही है पर वापिस से भीड़ लगने की वजह से विशेषज्ञ कह रहे है की तीसरी लहर महज़ कुछ हफ़्तों में आ जाएगी। स्कूल और कॉलेज बंद है पर रेस्ट्रॉं, मॉल , ऑफिस खोले जा चुके है। बाज़ारो में भी फिरसे चहलकदमी शुरू हो चुकी है, ऐसे में अगर जल्द से जल्द टीकाकरण नहीं हुआ तो तीसरी लहर (Third Wave) को रोक पाना बहुत कठिन होगा।

READ:  उत्तर प्रदेश: ससुर ने बहू से रचाई शादी, लड़के को कहा टाटा बाय-बाय

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।