लोकसभा चुनाव 2019 के रुझानों में 49% वोटों के साथ PM मोदी पहली पसंद

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली 5 अगस्त। लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अभी करीब 10 महीने है लेकिन राजनीतिक सरगर्मिया अभी से ही तेज हो गई है। अलग-अलग फोरम रुझानों के जरिए इस नब्ज को टटोलना चाह रहे हैं कि जनता किसे अगला प्रधानमंत्री चुनेगी। चुनावी चाणक्य के रूप में अपनी पहचान बना चुके चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की पॉलिटिकल पीआर कंपनी आई-पैक अपनी वेबसाइट इंडियापैक.कॉम के जरिए ‘नेशनल एजेंडा फोरम’ के माध्यम से जनता की नब्ज टटोलने की कोशिश कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री की रेस में कई दिग्गज नेता
हांलाकी, देखा जाए तो मुख्य मुकाबला पीएम नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बीच होना है लेकिन प्रधानमंत्री की रेस में कई दिग्गज नेता शामिल हैं। नेशनल एजेंडा फोरम में लोगों से उसे चुनने के लिए कहा है जिसे वो प्रधानमंत्री के उम्मीदवार के रूप में देखता है।

इस लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद, उत्तर प्रदेश पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, बीएसपी सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती, सहित सीताराम येचुरी, एडी देवगौड़ा जैसे दिग्गज नेताओं के नाम शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2019 के लिए I-PAC की रणनीति तैयार, PM मोदी को मिलेगा प्रशांत किशोर का साथ!

पीएम मोदी पहली पसंद
किसान, शिक्षा, इकॉनोमी इक्वेलिटी, महिला सुरक्षा, भ्रष्टाचार और फ्रीडम ऑफ स्पीच सहित अन्य प्रमुख 28 मुद्दों के लिए अब तक हुई वोटिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों के लिए पहली पसंद बनकर उभरे हैं। उन पर 49.2 फीसदी लोगों ने भरोसा जताया है जबकि राहुल गांधी को 15.1 प्रतिशत वोट मिले हैं।


वहीं इस फेहरिस्त में 8.8 फीसदी वोटों के साथ मुख्यमंत्री केजरीवाल तीसरे, 4.3 प्रतिशत वोट के साथ ममता बनर्जी चौथे और 4.1 फीसदी वोट के साथ अखिलेश यादव पांचवे पायदान पर है। जबकी 3.9 फीसदी वोटों के साथ नीतीश कुमार 6वें सीताराम येचुरी 3 फीसदी वोटों के साथ 7 और 2.2 वोट प्रतिशत के साथ मायावती 8वें पायदान पर हैं।

ALSO READ:  मुख्यमंत्री की शपथ लेते ही मध्य प्रदेश के किसानों का कर्ज़ माफ़ करेंगे कमलनाथ, लेकिन कैसे?

ऐसे करें वोटिंग
हांलाकि, इसके लिए वोटिंग लाइन्स अब भी खुली है। ऑनलाइन होने वाली इस वोटिंग के लिए अंतिम तारीख 14 अगस्त तय की गई है। आप आई-पैक की आधिकारिक वेबसाइट https://www.indianpac.com/naf/ पर लॉग-इन करअपने मनपसंद नेता का नाम बताने के साथ ही अपने और देश के लिए एक महत्वपूर्ण मुद्दा भी बता सकते हैं जो चुनाव में बेहद जरूरी  हो।

15 अगस्त को आएंगे नतीजें
14 अगस्त चलने वाली वोटिंग के नतीजे अगले दिन  15 अगस्त को इसके परिणाम घोषित किए जाएंगे। आई-पैक के मुताबिक, इस सर्वे में जिस भी नेता को सबसे अधिक वोट मिलेंगे, हमारी टीम उनसे जाकर उन मुद्दों चर्चा करेगी जिन्हें सर्वे में लोगों ने सबसे ज्यादा महत्व दिया है। आई-पैक की टीम इन राजनीतिक दलों से उन मुद्दों को अपने चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने का भी आग्रह करेगी।

यह भी पढ़ें: 2019 में BJP की सरकार बनने के बावजूद नरेंद्र मोदी नहीं बन पाएंगे प्रधानमंत्री?

नेशनल फोरम एजेंडा का उद्देश्य
महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमिटी (I-PAC) ने नेशनल एजेंडा फोरम (NAF) लॉन्च किया है। यह युवाओं द्वारा शुरू की गई एक ऐसी पहल है जिसका मकसद आम चुनाव 2019 के लिए योग्य एजेंडा तैयार करना है।

नेशनल एजेंडा फोरम का उद्देश्य गांधीजी के 18-सूत्रीय रचनात्मक कार्यक्रम पर चर्चा को पुनर्जीवित करना है, इस चर्चा के माध्यम से देश की प्राथमिकताओं को पुनर्कल्पित और सहनिर्मित कर समकालीन भारत के लिए योग्य एजेंडा तैयार किया जाना भी इस फोरम का मकसद है।

ALSO READ:  'बौद्ध, हिंदू, सिखों' को छोड़ देश से बाहर होंगे सभी घुसपैठियें : अमित शाह

देश की कई दिग्गज हस्तियों ने किया समर्थन
नेशनल एजेंडा फोरम को गांधीवादी संगठन गांधी स्मारक निधि, सर्वोदय आश्रम समेत कई जानी-मानी हस्तियों, विश्वविजेता बॉक्सर मैरीकॉम, कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक विजेता बबिता फोगाट, अभिनेता पीयूष मिश्रा के अलावा कई मशहूर शख्सियतों ने समर्थन दिया है।

मध्य प्रदेश से संबंध रखने वाली कई प्रतिष्ठित शख्सियतें भी नेशनल एजेंडा फोरम के साथ आई हैं। वागेश्वरी अवॉर्ड से सम्मानित लेखक मनीष वैद्य, गांधी भवन न्यास के अरविंद चतुर्वेदी, वरिष्ठ लेखक विजय बहादूर सिंह, क्रिकेटर इश्वर पांडे, पूर्व हॉकी खिलाड़ी अशोक ध्यानचंद के अलावा गांधीजी द्वारा शुरू की गई पत्रिका ‘वीणा’ के संपादक राकेश शर्मा ने भी नेशनल एजेंडा फोरम को अपना समर्थन दिया है।

यह भी पढ़ें: देश में एक साथ चुनाव चाहते हैं PM मोदी… जानिए आखिर कितना संभव है ये

देश के 500 से ज्यादा जिलों से समर्थन
लॉन्च होने के एक महीने के अंदर ही नेशनल एजेंडा फोरम को देशभर से अपार समर्थन मिल रहा है। नेशनल एजेंडा फोरम को अब तक देश के 500 से ज्यादा जिलों के 28,901 युवा एसोसिएट्स, 142 प्रतिष्ठित शख्सियत और 206 सामाजिक संगठनों ने समर्थन दिया है।

देखें वीडियो-

समाज और राजनीति की अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर फॉलो करें- www.facebook.com/groundreport.in/

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.