Home » बिहार के गाँव में मुस्लिमों ने मचाया कहर; Dalit बस्ती पर किया हमला

बिहार के गाँव में मुस्लिमों ने मचाया कहर; Dalit बस्ती पर किया हमला

बिहार के गाँव में मुस्लिमों ने मचाया कहर; Dalit बस्ती पर किया हमला
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk | Bihar Muslim community attacks Dalit जहाँ एक तरफ बड़े शहरों से लेकर गाँवों तक सभी कोरोना के चलते परेशान है, तो वही बिहार से एक झकझोर देने वाली खबर आयी है। बिहार के पूर्णिया जिले के बयासी थाने की खापड़ा पंचायत के मजुवा गांव में मुस्लिम भीड़ ने अपना कहर बरपाया। भीड़ ने महादलित बस्ती में न सिर्फ एक दर्जन से अधिक घरों में आग लगा दी, बल्कि बस्ती के चौकीदार को भी पीट-पीट कर मार डाला। मरने वाले चौकीदार मेवालाल राय 70 वर्ष के थे। पुलिस मौके पर पहुंची और दमकल की मदद से आग पर काबू पाया गया।

CM Yogi से बहस करने वाले पूर्व डीएम के खिलाफ चल रहा मामला निरस्त

दलित बस्ती पर हमला | Attack on Dalit community

एक अन्य चौकीदार भरत राय ने कहा कि उनके साथ एक अन्य सहयोगी दिनेश राय भी मौके पर थे। उन्होंने कहा कि दिन में थोड़ी मारपीट हुई, जिसके बाद प्रशासन ने आकर उन्हें समझाया और मामला शांत कराया, लेकिन रात 11.30 बजे आसपास के गांवों से करीब 150 की भीड़ वहां पहुंच गई। पूर्व, उत्तर और दक्षिण तीनों दिशाओं से वहां भीड़ जमा हो गई थी। भरत राय ने कहा कि सबके हाथ में एक गैलन पेट्रोल था। भीड़ ने घरों पर पेट्रोल डाल कर आग लगा दी। इस दौरान जब लोग घर से निकल कर भागने लगे तो भीड़ ने उन्हें घसीटा और पीटना शुरू कर दिया। आरोपियों के पास तलवारें, लाठियां, पेट्रोल और बाइक की चेन भी थी। भीड़ द्वारा किये गए इस हमले में कई लोग घायल भो हो गए है। जानकारी अनुसार, इस बस्ती में लगभग 60 परिवार रहते है। इस विधान सभा के विधायक ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के हैं।

‘थप्पड़ मार’ Collector Ranbir Sharma को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हटाया

READ:  Muslim youth lynched to death in Uttar Pradesh

भरत राय ने कहा कि लोगों को बड़ी बेरहमी से मारा गया है। एक व्यक्ति की मौत हो गई और लगभग 20-25 लोग घायल हो गए और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। भरत राय ने कहा कि जो भी आए वे सभी मुस्लिम समुदाय से थे। उन्होंने कहा कि मामला रिजवी, शाकिद और इलियास के बीच निजी रंजिश का है। बाकी लोग उसके साथ सिर्फ इसलिए आए क्योंकि वह मुसलमान है। मुस्लिम समुदाय की मदद के लिए पूरी भीड़ गांव पहुंची थी। अंबेडकर सेवा समिति के कार्यकारी अध्यक्ष एडवोकेट इंद्रदेव पासवान ने दलित युवक हत्याकांड के आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।

READ:  CM Amrinder Singh के इस्तीफे को लेकर बड़ा खुलासा, उनके साथ ही कई और मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

विश्व हिन्दू परिषद् ने न्यायिक जांच की मांग की है, स्थानीय परिजनों ने आरोप लगाया है की इस पूरे घटनाक्रम के मुख्य आरोपी दुसरे गाँव के सरपंच के घर में शरण लेकर रह रहे है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।