Murshidabad Muder: पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में गर्भवती पत्‍नी सहित तीन लोगों की नृशंस हत्या

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

विजय दशमी पर घर में शिक्षक, उनकी गर्भवती पत्‍‌नी और आठ वर्षीय बेटे की धारदार हथियार से नृशंस हत्या कर दी गई. पुलिस ने घटनास्थल से हत्या में प्रयोग किए गए धारदार हथियार को बरामद किया है. हत्या की वजह को लेकर पुलिस संशय में है. संदेह के आधार पर मृतक परिवार के अन्य सदस्यों एवं आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है. घटना के बाद घर से निकलने वाले एक युवक की भी तलाश की जा रही है.

आज से लागू हुए Jio फ्री कॉलिंग के नए नियम : देखें

पश्चिम बंगाल के आरएसएस महासचिव जिस्नु बसु ने कहा कि शुरुआत में हमने सोचा कि इसे हल किया जाएगा. और हमें लगता है कि यह कोई राजनीतिक हत्या नहीं है, लेकिन पुलिस लोगों को न्याय दिलाने के मकसद में नाकाम रही है. वह हाल ही में एक मिलन समारोह में शामिल हुए थे, जिसे हम नियमित अंतराल पर आयोजित करते हैं और एक बार इसमें उन्होंने हिस्सा लिया था.

कानपुर: वे मंदिर जो बाबरी विध्वंस के बाद हुए दंगो की चपेट में आए और आज खंडहर में तब्दील हो गए : ग्राउंड रिपोर्ट

उन्होंने कहा कि हम इस अपराध में शामिल लोगों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं, लेकिन अभी तक एक भी गिरफ्तारी नहीं हुई है. वे फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं, अब तक क्या हो रहा है. हालांकि पुलिस का कहना है कि हम हत्याकांड की जांच कर रहे हैं और जल्द ही इसके बारे में जानकारी मिलेगी.

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्‍यक्ष रेखा शर्मा ने इस बात पर संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और पुलिस अधिक्षक को पत्र लिखकर इस बात का निर्देश दिया है कि पश्चिम बंगाल की सरकार हत्‍या में शामिल आरोपी को जल्‍द से जल्‍द गिरफ्तार करवाए और इस बात का ध्‍यान रखा जाए कि इस जांच में किसी  भी तरिके का पक्षपात ना  हो.

एसपी के अनुसार, वह एक प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक थे. घटनास्थल की जांच के बाद, हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि इस कृत्य को उसके किसी रिश्तेदारों द्वारा ही अंजाम दिया गया है

हत्या करने से पहले पीड़ितों को जहर दिया गया और जब वे बेहोश हो गए, तो उनकी हत्या कर दी गई. हमने घटनास्थल से एक हैंडनोट भी बरामद किया है. यह लिखावट मृतक गर्भवती महिला ब्यूटी पाल की हो सकती है. हम लिखावट की पहचान करने की कोशिश में जुटे हैं. हो सकता है कि पति और पत्नी के बीच संबंध मधुर नहीं थे. अभी जांच शुरुआती अवस्था में है. घटना के कई कारण हो सकते हैं.

‘उच्च वर्ग के लोगों के साथ बैठने की इच्छा रखने वाले ‘शूद्र’ की कमर को दाग़ देना चाहिए’

सूचना पर पहुंची जियागंज थाना पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. घर से हत्या में प्रयोग किए गए धारदार हथियार को भी बरामद किया गया है. फॉरेंसिक विशेषज्ञों ने घटनास्थल से नमूने एकत्र किए स्निफर डॉग के साथ इलाके की जांच पड़ताल की जा रही है.