madhya-pradesh-by-elections-election-commission-guidelines-8-voting rules

MP Elections : मध्य प्रदेश में 75% वोटिंग, 70 से अधिक बूथों पर खराब रहीं EVM, पढ़ें 5 खास बातें

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भोपाल, 28 नवंबर। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में वोटिंग खत्म हो चुकी है। प्रदेश की कुल 230 विधानसभा सीटों के लिए सुबह 7 बजे शुरू हुआ मतदान का सिलसिला शाम 5 बजे तक चला। ताजा जानकारी के मुताबिक, मध्य प्रदेश में 66 प्रतिशत वोटिंग दर्ज की गई है। वहीं दोपहर 3 बजे तक 55 जबकि दोपहर 1 बजे तक 40 फीसदी मतदान रिकॉर्ड किया गया। पढें 5 खास बातें…

1) चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश के कई जिलों में कई जगह ईवीएम में गड़बड़ी और कई जगह वोटिंग मशीन के खराब होने के चलते मतदान में बाधा हुई जिसके चलते मतदाताओं को घंटो लाइन में खड़े रहना पड़ा। सतना, रीवा, भोपाल, भिंड के अलावा प्रदेश के अन्य जिलों के करीब लगभग 70 मतदान केंद्रों में मशीन ख़राब होने की ख़बरें सामने आई।

2) ईवीएम में गड़बड़ी की खबरे सामने आईं तो सियासी पारा भी चढ़ने लगा। कांग्रेस नेता कमलनाथ ने ट्विट कर कहा कि, प्रदेश भर से बड़ी संख्या में ईवीएम मशीनों के ख़राब और बंद होने की जानकारी सामने आ रही है। इससे मतदान प्रभावित हो रहा है। मतदान केंद्रों पर लम्बी लाइनें लग गई हैं। इतनी बड़ी गड़बड़ी कैसे? चुनाव आयोग अविलंब इस पर निर्णय ले। तत्काल बंद मशीनों को बदला जाए।

ALSO READ:  बीजेपी में शामिल होने के बाद पहली बार सिंधिया-शिवराज की बैठक, मध्य प्रदेश उपचुनाव पर हुई ये बातचीत

यह भी पढ़ें: MP Elections: 3 हजार 46 मतदान केन्द्रों का संचालन पूरी तरह महिलाओं के जिम्मे, पढ़ें 5 खास बातें

3) चुनाव ड्यूटी में तैनात तीन कर्मचारियों की हार्ट अटैक से मौत हो गई है। इनमें से एक पीठासीन अधिकारी थे। मुख्य निर्वाचन अधिकारी बीएल कांता राव के मुताबिक दो लोगों की मौत इंदौर में जबकि एक की मौत गुना में हुई है। चुनाव आयोग ने मारे गए इन अधिकारियों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है।

4) इन सब से इतर, भोपाल दक्षिण-पश्चिम विधानसभा क्षेत्र में हो रही वोटिंग के बीच पंचशील नगर में सेंट मेरी स्कूल स्थित बूथ में ईवीएम में गड़बड़ी के चलते मामला गरमा गया। मतदान में हो रही दिक्कत के चलते जहां लोगों को परेशानी हुई। वहीं प्रशासन ने मतदान में बाधा पहुंचाने के चलते वार्ड 47 से बीजेपी पार्षद राजेश खटिक की कार जब्त कर ली। वहीं एक कार्यकर्ता को हिरासत में लेने की भी खबर भी सामने आई है।

ALSO READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव: सभी 27 सीटों पर अक्टूबर में हो सकती है वोटिंग, अधिकारियों की ट्रेनिंग शुरू

5) मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों के लिए 28 नवंबर को हुई वोटिंग के नतीजें 11 दिसंबर को घोषित किए जाएंगें। मेजोरिटी के लिए 116 सीटें जरूरी हैं। 15 सालों से सत्ता से बाहर है जबकि बीजेपी 15 सालों से विकास के मुद्दे पर दम भर रही है। इस बार मैदान में कांग्रेस, बीजेपी, बीएसपी, एसपी सहित आम आदमी पार्टी भी चुनावी मैदान में हैं, लेकिन मुख्य मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच है।

यह भी पढ़ें: इटारसी-होशंगाबाद की जनता और युवाओं के लिए क्या है सरताज सिंह का विज़न, देखें वीडियो

सत्ता विरोधी लहर इस बार बीजेपी के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है। बीजेपी की ओर से शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं जबकि कांग्रेस ने इस बार मुख्यमंत्री पद का चेहरा अब तक सामने नहीं रखा है। कमलनाथ और ज्योतिरादित्य दोनों की चुनाव की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं। वहीं आम आदमी पार्टी की ओर से आलोक अग्रवाल मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं।

ALSO READ:  Jharkhand Elections 2019: रुझानों में कांग्रेस को पूर्ण बहुमत, नहीं चला पीएम मोदी का जादू

ग्राउंड रिपोर्ट से जुड़ी तमाम खबरों के लिए हमारे यू ट्यूब चैनल https://www.youtube.com/groundreportvideos पर क्लिक कर सब्सक्राइब करें और घंटी के आइकन पर क्लिक करें। आपको यह वीडियो न्यूज़ कैसी लगी अपना फीडबैक, सुझाव या शिकायत आप कमेंट में बता सकते हैं।

Comments are closed.