shivraj singh chauhan against one nation one market

मोदी जी वन नेशन वन मार्केट का सपना दिखा रहे हैं, शिवराज जेल भेजने की धमकी दे रहे हैं

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वन नेशन वन मार्केट का सपना दिखा कर ही नए कृषि कानून देश में लाए गए ताकि किसान में कहीं भी अपनी फसल बेच सके, उसे बेहतर दाम मिल सके। लेकिन राज्यों की कहानी उल्टी है बीजेपी शासित राज्य हरियाणा और मध्यप्रदेश शायद प्रधानमंत्री मोदी के इस विज़न से इत्तेफाक नहीं रखते। हाल ही में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अगर दूसरे राज्य से कोई मध्यप्रदेश में फसल लाकर बेचने का प्रयास करेगा तो उसे जेल भिजवा देंगे। वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी चेतावनी दे चुके हैं कि राजस्थान का बाजरा वो हरियाणा में नहीं बेचने देंगे। तो क्या वन नेशन वन मार्केट किसानों के साथ धोखा है?

READ:  किसानों ने बैठक में फाड़ा संशोधन, बिल वापस लेने तक जारी रहेगा किसान आंदोलन

वन नेशन वन मार्केट क्या है ?

नए कृषि कानून जिनका विरोध किसान कर रहे हैं उसके अनुसार अब किसान किसी भी राज्य में जाकर अपनी फसल बेच सकता है। अब उसे अपने राज्य के मंडी तक सीमित रहने की ज़रुरत नहीं है। इससे किसानों को बेहतर दाम और बड़ा बाज़ार मिलेगा। लेकिन शिवराज सिंह चौहान और मनोहर लाल खट्टर के बयानों और धमकी के बाद, सरकार के इस कथन पर भी संशय के बादल मंडराने लगे हैं।

ALSO READ: किसानों का दिल्ली कूच: ‘क्या इस देश में किसान होना अपराध है’

वन नेशन वन मार्केट पर क्या बोले शिवराज?

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश के किसानों का धान का एक-एक दाना सरकार खरीदेगी, लेकिन बाहर वाला फसल लाकर मध्य प्रदेश में बेचने का प्रयास करेगा तो उसे जेल भिजवाया जाएगा। ट्रक भी जब्त करूंगा। उन्होंने चेतावनी दी है कि आसपास के राज्यों से फसल लाकर बेचने का कोई प्रयास न करें। मुख्यमंत्री ने यह घोषणा गुरुवार को नसरुल्लागंज में किसानों की एक सभा में की है।

READ:  US Election 2020: मोटा भाई प्लीज, नहीं हो पाएगा डोलांड भाई, बिहार चुनाव में बिजी हूँ...

मंडियां बंद नहीं होंगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि मंडियां बंद नहीं होंगी लेकिन मंडी के अलावा अगर कोई व्यापारी किसान को फसल के अच्छे दाम दे रहा हो तो किसान मंडी के बाहर भी बेच सकता है। ये किसान की मर्जी होगी कि वो जहां चाहेगा, वहां फसल बेचे।

ALSO READ: जैविक खेती: आपदा को अवसर में बदलती ग्रामीण महिलाएं

किसानों का ब्याज सरकार चुकाएगी

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने कर्ज माफी के नाम पर किसानों को धोखा दिया। किसानों का कर्ज माफ किए बिना ही प्रमाण पत्र बांट दिए गए। कांग्रेस ने कर्ज माफी के नाम पर झूठ बोला है। किसान अब भी डिफाल्टर हैं। ऐसे किसानों का ब्याज सरकार भरेगी। उन्होंने कहा ब्याज की गठरी जो कांग्रेस ने किसान के सिर पर रखी है, उसे शिवराज उतारेगा।

READ:  'Trying to solve the doubts of farmers': Union Agriculture Minister

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।