Home » HOME » लॉकडाउन में फंसे मजदूर-छात्र जा सकेंगे अपने घर, गृह मंत्रालय ने जारी की गाइडलाइन

लॉकडाउन में फंसे मजदूर-छात्र जा सकेंगे अपने घर, गृह मंत्रालय ने जारी की गाइडलाइन

Sharing is Important

कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए देश में लॉकडाउन लागू है। लॉकडाउन के कारण देश में कई लोग अपने घर से दूर दूसरी जगहों पर फंस गए है। इनमें प्रवासी मजदूर, तीर्थयात्री, पर्यटक और छात्र शामिल है। वहीं गृह मंत्रालय ने फंसे हुए लोगों के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। नई गाइडलाइन के तहत फंसे हुए लोग अपने घर जा सकेंगे।

इसके अलावा सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को अपने नोडल अधिकारी नियुक्त करने और ऐसे फंसे हुए व्यक्तियों को वापस भेजने और लेने के लिए एक एसओपी की तैनाती करनी होगी। गाइडलाइन के तहत एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने के इच्छुक लोगों के लिए राज्यों को आपस में बात करनी होगी। एक राज्य से दूसरे राज्य में भेजे जा रहे लोगों की चिकित्सकीय जांच की जाएगी। जांच के बाद ही लोगों को आगे भेजा जाएगा। अपने स्थानों पर पहुंचने के बाद सभी लोगों को स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों के जरिए क्वारनटीन किया जाएगा।

READ:  संकट में है सीहोर-भोपाल टैक्सी सर्विस, कई ड्राइवर फल सब्ज़ी के लगा रहे ठेले

प्रवासी मजदूरों, यात्रियों और छात्रों को समूह में सिर्फ बस के द्वारा ही भेजा जाएगा। भेजने से पहले बसों को सेनेटाइज किया जाना जरूरी। यात्रा के दौरान सबसे अहम होगा की सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाए। बता दें कि देश में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश में लॉकडाउन लागू किया गया है। हालांकि लॉकडाउन के चलते यातायात पर रोक और सार्वजनिक यातायात की सेवाएं बंद होने के कारण कई प्रवासी मजदूर, तीर्थयात्री, पर्यटक और छात्र एक ही स्थान पर फंसे रह गए।

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।