Sat. Aug 17th, 2019

MCU घोटाला : बच्चों की फीस से मंहगी शराब खरीदने वाले कुठियाला आज हो सकते हैं कोर्ट में पेश

40 पन्नों की जांच रिपोर्ट बताती है कि पूर्व कुलपति कुठियाला ने लाखों रुपये शराब पर उड़ाए हैं। 3000 रुपये से लेकर 5000 रुपये तक की कई इंपोर्टेड कीमती रेड वाइन का बिल सरकारी पैसों से चुकाया गया।

MCU Scam : former vice chancellor Brij Kishor Kuthiyala Makhanlal chaturvedi university Bhopal EOW Court mcu bhopal

फाइल फोटो।

भोपाल, 19 जलुाई। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में आर्थिक अनियमितताओं के मुख्य आरोपी पूर्व कुलपति प्रोफेसर बृज किशोर कुठियाला आज कोर्ट में पेश हो सकते हैं। इस मामले में EOW आर्थिक अपराध शाखा ने कुठियाला को फरार घोषित करने के लिए कोर्ट में धारा 82 के तहत आवेदन दिया है।

इससे पहले सुनवाई के दौरान कुठियाला की ओर से वकील ने आवेदन प्रस्तुत कर अदालत में बताया प्रोफेसर कुठियाला फरार नहीं हैं। पिछली सुनवाई पर उनके वकील ने कोर्ट को बताया था कि प्रो. कुठियाला 19 जुलाई को स्वयं कोर्ट में हाजिर हो जाएंगे।

भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, देश में पत्रकारिता के प्रतिष्ठित संस्थानों में से एक है। देश भर के छात्र यहां पत्रकारिता की पढ़ाई करने आते हैं। प्रो. बीके कुठियाला के कार्यकाल के दौरान यहां कई शैक्षणिक पदों पर मनमर्ज़ी से अयोग्य लोगों की नियुक्ति का मामला सामने आया।

कई बड़े पदों पर सिफारिश के माध्यम से लोगों की भर्ती कर दी गई। इस दौरान संस्थान में कई वित्तीय अनियमितताऐं भी सामने आई जिसकी जांच जारी है। पढ़ें कुठियाला पर लगे गंभीर आरोपों की चार खास बातें-

1.) फंड की कमी बताकर बच्चों को किया गुमराह –
विश्वविद्यालय में हुई धांधलियों और आरोपों की फेहरिस्त काफी लंबी है। बच्चों को बेहतर माहौल, बेहतर शिक्षक देने की मांग लंबे अरसे से उठती रही हैं, लेकिन कभी फंड की दिक्कत तो कभी तकनीकि खामियों का जिक्र कर उन्हें गुमराह किया गया। बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर, टेलीविजन, अत्याधुनिक कंप्यूटर और वाईफाई जैसी कई बैसिक चीजों के लिए बच्चें समय-समय पर आवाज़ उठाते रहे लेकिन फंड की कमी बताकर उनकी मांगों को टाल दिया गया।

2.) सरकारी पैसे से चुकाया शराब का बिल –
हाल ही में आई जांच समिति की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि, तत्कालीन कुलपति बृज किशोर कुठियाला ने सरकारी पैसों का गलत खर्च करते हुए शराब का बिल चुकाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 40 पन्नों की जांच रिपोर्ट बताती है कि पूर्व कुलपति कुठियाला ने लाखों रुपये शराब पर उड़ाए हैं। 3000 रुपये से लेकर 5000 रुपये तक की कई इंपोर्टेड कीमती रेड वाइन का बिल सरकारी पैसों से चुकाया गया।

3.) रिसर्च के नाम पर 1 करोड़ 7 लाख बर्बाद –
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पत्रकारिता में देश के प्रमुख विश्वविद्यालयों में से एक माखनलाल यूनिर्सिटी में भाषाई जर्नलिज्म में रिसर्च के नाम पर करीब 1 करोड़ 7 लाख रुपए से ज्यादा की पैसे खर्च कर दिए गए। खास बात यह है कि पांच साल में पूरे होने वाले इस प्रोजेक्ट में किताबें छापी ही नहीं गईं।

4.) परीक्षा के नाम पर 9 करोड़ की धांधली –
कुठियाला के राज में परीक्षा के नाम पर नागपुर की एक संस्था ‘न्यासा’ को करीब 9 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया। जबकि एक्सपर्ट की मानें तो राजधानी भोपाल की ही संस्था इस परीक्षा को इससे कम राशि में कर सकती थी। जांच रिपोर्ट में यह भी पाया गया है कि किसी भी पाठ्यक्रम में छात्रों की संख्या इतनी नहीं पाई गई कि इतनी बड़ी राशि का भुगतान किया जाए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: