Home » मैरी कॉम ने धमाकेदार आगाज से किया प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश

मैरी कॉम ने धमाकेदार आगाज से किया प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
एमसी मैरीकॉम

दिग्गज भारतीय मुक्केबाज (legendary Indian boxer) एमसी मैरीकॉम (MC Mary Kom) ने अपने ओलंपिक (Olympic) अभियान की शानदार शुरुआत करते हुए अगले दौर में जगह बना ली है। रविवार को 51 किलो फ्लाइवेट कैटेगरी (flyweight category) के राउंड-32 के मुकाबले में उन्होंने अपने से 15 साल जूनियर डोमिनिका गणराज्य की मिगुएलिना हर्नांडिज गार्सिया (Miguelina Hernandez Garcia) को 4-1 से शिकस्त दी। मैरीकॉम (Mary Kom) का अगला मुकाबला 29 जुलाई को होगा। वह कोलंबिया (Colombia) की तीसरी वरीयता प्राप्त इंग्रिट वालेंसिया से भिड़ेंगी, जो 2016 रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता हैं।

महाराष्ट्र सदन में हुई अहम् बैठक, आरक्षण पद्धति को बदलनें पर सवर्ण समाज समूह में बनी आम सहमति

बता दें कि मुकाबले के शुरुआती के दो रांउड में मैरीकॉम (Mary Kom) ने थोड़ा डिफेंसिव होकर खेलना उचित समझा और जरूरत के मुताबिक ही उन्होंने पंच बरसाए। वहीं दूसरी ओर, गार्सिया (Garcia) ने आक्रामक बॉक्सिंग (Boxing) करने की कोशिश की। इसी दौरान कई बार रेफरी को कुछ मौकों पर अलग करने के लिए कहना पड़ा। तीसरे एवं अंतिम राउंड में मैरीकॉम ने आक्रामक खेल का परिचय देते हुए कुछ शानदार पंच जड़े। डोमिनिकन मुक्केबाज ने भी हमले की कोशिश की, लेकिन यह मुकाबला जीतने के लिए पर्याप्त नहीं था।

READ:  Durga Puja 2021: Kolkata में Burj Khalifa की थीम पर सजाया गया मां दुर्गा का पंडाल, देखते ही रह जाएंगे दंग

और अगर जजों की बात करे तो चार जजों ने मैरीकॉम (Mary Kom) के प्रदर्शन को बेहतर बताया, वहीं केवल दूसरे जज ने गार्सिया (Garcia) के पक्ष में फैसला दिया। गार्सिया पैन अमेरिकी खेलों की कांस्य पदक विजेता हैं। मैरीकॉम को पहले जज ने 30, दूसरे ने 28, तीसरे ने 29, चौथे ने 30 और पांचवें जज ने 29 अंक दिए। वहीं, गार्सिया को पहले जज ने 27, दूसरे ने 29, तीसरे ने 28, चौथे ने 27 और आखिरी जज ने कुल 28 अंक दिए।

Itarsi: श्री प्रेमशंकर दुबे स्मृति पत्रकार भवन में आज़ाद की जयंती और गुरुपूर्णिमा की शाम काव्य गोष्ठी का आयोजन

आपको बता दे की छह बार की वर्ल्ड चैंपियन बॉक्सर मैरी कॉम (Mary Kom) की नजरें टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) में गोल्ड मेडल पर हैं। लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता मैरी ने राष्ट्रमंडल खेलों, एशियाई खेलों और एशियाई चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। मणिपुर की इस बॉक्सर को पद्मविभूषण, पद्मभूषण और पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है।

READ:  Channi- PM Modi meeting : पंजाब सीएम चन्नी ने की मोदी से मुलाकात, तीन बातों पर की विशेष चर्चा

Ground Report के साथ फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।