Home » मणिपुर में गिरी बीजेपी सरकार, कई विधायक कांग्रेस में शामिल

मणिपुर में गिरी बीजेपी सरकार, कई विधायक कांग्रेस में शामिल

lok sabha elections 2019 : army veterans letter president ramnath kovind narendra modi government politicizing army
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मणिपुर राज्य में बड़ा राजनीतिक संकट देखने को मिल रहा है। यहाँ भारत चीन के बीच हुए संघर्ष के बाद बीजेपी में कई विधायक बागी हो गए हैं और उन्होने बीजेपी छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया है। मणिपुर सरकार के करीब 9 विधायक बागी हो गए हैं और उनमें से तीन विधायकों ने आधिकारिक तौर पर कांग्रेस का दामन थाम लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मणिपुर में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार पर मंडराते संकट के बीच कांग्रेस जल्द ही राज्य यहां नई सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। बीजेपी के 3 और गठबंधन के डेप्युटी सीएम समेत 6 विधायकों के समर्थन वापस लेने के बाद मणिपुर सरकार पर संकट के बाद छा गए हैं। वहीं इस राजनीतिक उथल-पुथल के बाद कांग्रेस ने भी ऐलान कर दिया है कि पूर्व मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह नए नेता होंगे।

READ:  आत्महत्या समस्या का समाधान नहीं है

इस मामले में कांग्रेस प्रवक्ता निंगोंबम भूपेंद्र मेइतेइ ने कहा कि मणिपुर में नए सूरज का उदय होगा और उन्हें पूरा भरोसा है कि तीन बार के मुख्यमंत्री रह चुके इबोबी सिंह नए मुख्यमंत्री होंगे। बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि सरकार का गिरना भगवा पार्टी के पतन का प्रतीक है। कई नेताओं के इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि उनकी पार्टी गठबंधन सरकार का नेतृत्व करेगी और यह जनता की सरकार होगी।

जिन विधायकों ने बीजेपी से इस्तीफा दिया है उनमें एस सुभाषचंद्र सिंह, टीटी हाओकिप और सैमुअल जेनदई जैसे स्थानीय दिग्गज नेता शामिल हैं। वहीं इसके अलावा टीएमसी विधायक टी रॉबिंद्रो सिंह, नैशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी) के विधायक वाइ जॉयकुमार सिंह (डेप्युटी सीएम), एन कायसी, एल जयंता कुमार सिंह, लेतपाओ हाओकिप और निर्दलीय विधायक असबउद्दीन ने गठबंधन सरकार से इस्तीफा देकर कांग्रेस का दामन थाम लिया है। तीन बीजेपी विधायकों ने आधिकारिक रूप से कांग्रेस की सदस्यता ली है।