Home » महाराष्ट्र में फिर बीजेपी : अमित शाह की चाल के आगे चारों खाने चित्त हुई शिवसेना-कांग्रेस

महाराष्ट्र में फिर बीजेपी : अमित शाह की चाल के आगे चारों खाने चित्त हुई शिवसेना-कांग्रेस

Delhi Election Result 2020 LIVE Update, Delhi Election Result 2020, Delhi Election 2020, Election Commission of India, Arvind Kejriwal, Manoj Tiwari, Rahul Gandhi, Amith Shah, PM Modi, BJP, Congress, AAP, Delhi,
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report News Desk | Mumbai

महाराष्ट्र में देवेंद्र फड़णवीस एक बार फिर मुख्यमंत्री बने हैं। रातों-रात यहा सत्ता का खेल पूरी तरह से पलट चुका है। कल तक खबरें थीं कि शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन की एक नई सरकार बनेगी जिसके मुख्यमंत्री शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे होंगे।

लेकिन बीजेपी के चाणक्य कहे जाने वाले राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह ने ऐसा पासा फेंका कि पूरी बाजी ही पलट गई। यहां बीजेपी ने एनसीपी से गठबंधन कर सरकार बना ली है। इस गठबंधन की सरकार में देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री और एनसीपी के अजित पवार उपमुख्यमंत्री बने हैं।

भारतीय राजनीति में शनिवार तड़के हुआ एक बड़े बदलाव ने सबको चौंका दिया। शनिवार सुबह बीजेपी ने एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बना ली है। रातों-रात महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने देवेंद्र फडणवीस को बतौर मुख्यमंत्री और एनसीपी के अजित पवार को बतौर डिप्टी सीएम पद की शपथ दिलवाई।

READ:  उत्तराखंड: ग्लेशियर टूटने से 2 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

इस पूरे मामले में गृहमंत्री और बीजेपी चीफ अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि, श्री देवेंद्र फड़णवीस जी को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और श्री अजीत पवार को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर हार्दिक बधाई। मुझे विश्वास है कि यह सरकार महाराष्ट्र के विकास और कल्याण के प्रति निरंतर कटिबद्ध रहेगी और प्रदेश में प्रगति के नये मापदंड स्थापित करेगी।

मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने स्पष्ट जनादेश दिया था। हमारे साथ लड़ी शिवसेना ने उस जनादेश को नकार दूसरी जगह गठबंधन बनाने का प्रयास किया। महाराष्ट्र को स्थिर शासन देने की जरूरत थी। महाराष्ट्र को स्थायी सरकार देने का फैसला करने के लिए अजित पवार को धन्यवाद।

READ:  Corona Medicine 2-Deoxy-D-Glucose DRDO benefits: कोरोना में DRDO की दवा कितनी फायदेमंद?

वहीं नवनिर्वाचित डिप्टी मुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि, परिणाम दिन से लेकर आज तक कोई भी सरकार सरकार बनाने में सक्षम नहीं थी, महाराष्ट्र किसान मुद्दों सहित कई समस्याओं का सामना कर रहा था, इसलिए हमने एक स्थिर सरकार बनाने का फैसला किया।

इस पूरे घटनाक्रम पर शिवसेना नेता संजय राउत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अजित पवार पर जमकर निशाना साधा। संजय राउत ने कहा कि, अजित ने उनकी पीठ में छुरा घोंपा है। ‘महाशय! 9 बजे तक हमारे साथ बैठे थे। उसी वक्त हमें उनकी बॉडी लैंग्वेज बदली-बदली लग रही थी। नजर मिलाकर बात नहीं कर रहे थे और फिर अचानक से गायब हो गए। उनका फोन भी स्विच ऑफ हो गया।

READ:  महाराष्ट्र: फार्मा कंपनी में आग से हड़कंप, लोगों में अफरा-तफरी

इसके बाद संजय राउत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि, बीजेपी ने राजभवन का दुरुपयोग किया है और जिस तरह रात के अंधेरे में सरकार बनाई गई है यह पाप है। अजित पवार ने महाराष्ट्र की जनता और छत्रपति शिवाजी के मूल्यों का अनादर किया है।