Home » झीलों के नगरी भोपाल में पानी की कमी से ‘हाहाकार’, कहीं चक्का जाम, तो कहीं लड़ाई-झगड़े

झीलों के नगरी भोपाल में पानी की कमी से ‘हाहाकार’, कहीं चक्का जाम, तो कहीं लड़ाई-झगड़े

Madhya Pradesh : water shortage water crisis in Bhopal city of lakes
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कोमल बड़ोदेकर | भोपाल

देश के कई इलाकों में इस समय भीषण गर्मी पड़ रही है। कई इलाकों में पानी का स्तर काफी नीचे चला गया तो कई इलाके सूखा ग्रस्त हैं। वहीं झीलों की नगरी के नाम से मशहूर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भी जहां आम दिनों हर दिन नल आते थे वहीं अब गर्मियों कई दिनों तक नलों में पानी की सप्लाई नहीं की जा रही है।

भोपाल के नेहरू नगर में पानी के लिए आए दिन झगड़ों की खबरें सामने आ रही हैं। रहवासियों का कहना है कि भोपाल नगर निगम को यहां इलाके में दिन में कम से कम तीन से चार बार पानी के टैंकर से स्पलाई करना चाहिए ताकी सभी लोगों को पर्याप्त पानी मिल सकें।

READ:  कोरोना में लूट: अंतिम संस्कार करवाना भी हुआ महंगा, कीमतें पांच गुना तक बढ़ी

रहवासियों के मुताबिक, निगम द्वारा एक दिन में सिर्फ एक बार ही टैंकर से पानी की सप्लाई की जा रही है। इससे लोगों को पर्याप्त पानी नहीं मिल पाता और आपस में पानी के लिए झगड़ा होता है।

वहीं बीते दिन 3 जून को भोपाल के कोलार इलाके में पानी की सप्लाई न होने से सर्वधर्म मेन रोड पर चक्का जाम कर दिया था। इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस ने चक्का जाम खुलवाने की कोशिश की लेकिन लोगों के आक्रोश के सामने पुलिस के पसीने छूट गए।