Home » Madhya Pradesh:बच्चे को बचाने की कोशिश में कुएँ में गिरकर चार ग्रामीणों की हुई मौत तीन रेस्क्यू सदस्य घायल

Madhya Pradesh:बच्चे को बचाने की कोशिश में कुएँ में गिरकर चार ग्रामीणों की हुई मौत तीन रेस्क्यू सदस्य घायल

Madhya Pradesh vidisha ganjbasoda incident
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Madhya Pradesh: यह घटना मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की है। मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) के विदिशा जिले में गुरुवार रात 9 बजे बड़ा हादसा हो गया। यहां कुएं में एक बच्चे के गिरने के बाद उसे निकालने के लिए पहुंचे लोगों के वजह से कुआं धंस गया जिसमें कई लोग गिर गए। और दो लोगों की मौत हो गयी। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इसकी जानकारी दी। एनडीआरएफ एवं एसडीआरएफ की टीमें बचाव कार्य चला रही हैं।

कैसे हुआ हादसा

दरअसल मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) के विदिशा में एक कुएं में एक बच्चे के गिरने की खबर पाकर गांव से तमाम लोग वहां पर आ गए और उसे निकालने की कवायद में जुट गए। इतने सारे लोगों की भीड़ के वजन से कुआं धंस गया और कई लोग उस कुएं में गिर गए।बाद में इसमें से दो लोगों की मौत हो गई।

Danish Siddiqui की अफ़गानिस्तान में हत्या, जिनकी तस्वीरों से हिल जाती थी सरकार

एनडीआरएफ ने मौके पर पहुँचकर बचाव का काम किया

बता दें कि लड़के के गिर जाने से लोगों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस को कॉल किया गया जिसके बाद एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम वहां पहुंची। जेसीबी की मदद से  बचाव कार्य शुरू करके कुछ लोगों को निकाल लिया। मौके पर राहत कार्य किए जा रहे हैं मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक कहा जा रहा है कि विदिशा के गंजबासौदा में रात को एक लड़का कुएं में गिर गया था, जिसको बचाने सभी गांव वाले पहुंचे थे।

बचाव दल के सदस्य भी हुए घायल

कुआं करीब 40 फीट गहरा है। उसमें 25 से 30 फीट पानी था। रेस्क्यू के लिए कुआं खाली कराया गया। अंधेरा होने के चलते रेस्क्यू में परेशानी आ रही है लेकिन, सुबह तक 20 लोगों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया जा चुका था। 4 लोगों के शव भी कुएं से निकाले गए हैं। अब भी वहां रेस्क्यू चल रहा है। रात में रेस्क्यू में लगा ट्रैक्टर भी पलट गया। वहीं बचाव दल के तीन लोग भी घायल हुए हैं। कुएं में अब भी पानी है। कुछ और लोगों के कुएं के मलबे में दबे होने की आशंका है।

READ:  Madhya Pradesh: 30 हजार स्कूलों में 12 जुलाई से हड़ताल, नहीं होगी ऑनलाइन पढ़ाई और परीक्षा

Kashmir: 60 साल पहले मर चुके शख्स को लगा डाला कोरोना का टीका!

बच्चे को बचाने वाले मोहन योगी ने क्या कहा

मोहन योगी ने बताया कि मैं भैरव मंदिर के पास के मोहल्ले में रोहित नाथ गोस्वामी के साथ बैठा हुआ था। तभी अचानक एक बच्चा दौड़ते हुए आया। कहा- कुंए में मेरा भाई रवि अहिरवार गिर गया है। उसे बचा लो। रोहित नाथ, मोहल्ले का अच्छा तैराक है। बच्चे के कहने पर वह और मोहल्ले के 10-12 लोग दौड़कर कुंए पर पहुंचे। कुंए में बच्चे के गिरने की खबर सुनकर मोहल्ले के ही राहुल रैकवार, आकाश मालवीय और विक्रम मालवीय बच्चे को बचाने कुंए में कूद चुके थे। लेकिन, कुंए में गिरा रवि अहिरवार पानी में नहीं दिखा। इसके बाद मैं अपने दोस्तों के साथ कुंए में उतरा। बच्चे को खोजना शुरू किया।

कुएं के ऊपर पाट (छत) पर खड़े लोग अलग-अलग जगह से रस्सियों में लोहे का कांटा कुंए में डालकर, कुंए के ऊपर से पानी में बच्चे को खोज रहे थे। अब तक कुंए में करीब 20 लोग बच्चे को खोजने उतर चुके थे। तभी अचानक कुंए की मुंडेर भरभराकर गिर गई। इससे कुंए की छत पर खड़े करीब 30 से 40 लोग कुंए में गिर गए। सभी को आनन फानन में कुंए के किनारे खड़े ग्रामीणों ने रस्सियों से निकालना शुरू किया। मुझे भी ग्रामीणों ने रस्सी डालकर बाहर निकाला।

READ:  Kerala murder case: तेज आवाज में गाना गाना पड़ गया भारी, गुस्साए पड़ोसी ने कर दी हत्या!

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर दी जानकारी

मुख्यमंत्री पहले से ही विदिशा जिले में ही मौजूद थे। उन्होंने ट्वीट कर घटना की जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने तुरंत मौके पर NDRF और SDRF की टीम ने पहुंचकर रेस्क्यू शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री ने विदिशा में ही अपना कंट्रोल रूम बना लिया है। वहीं से पूरे मामले पर निगरानी कर रहे हैँ। CM ने कहा कि मौके पर IG, कमिश्नर, कलेक्टर, SP समेत अन्य अधिकारियों को भेजा गया है। इसके अलावा, आधुनिक उपकरण वहां बचाव कार्य में उपयोग करने के लिए भेजे गए हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।