Madhya Pradesh Special DG Purushottam Sharma assaulted wife, case in state Women Commission watch viral video

VIDEO: मध्य प्रदेश के स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा अपनी पत्नी को बुरी तरह पीट रहे हैं, उन्हें लात-घूंसे मार रहे हैं

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश के स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा का अपनी पत्नी के साथ मारपीट का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में पुरुषोत्तम शर्मा अपनी पत्नी की पिटाई करते हुए नजर आ रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे शर्मा अपनी पत्नी को जमीन पर गिराकर उनके मुंह पर मुक्के लात घूंसे मारते हैं। पुरुषोत्तम का कथित अफेयर चल रहा है जिसका खुलासा होने पर विवाद मारपीट तक जा पहुंचा। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो पुरुषोत्तम शर्मा के बेटे ने ही रिकॉर्ड कर वायरल किया है। उनके बेटे ने डीजीपी को वीडियो दिखाकर अपने पिता की शिकायत की है।

आरोप है कि पुरुषोत्तम शर्मा की पत्नी ने उन्हें दूसरी महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में रंगे हाथों पकड़ लिया था। इसको लेकर पुरुषोत्तम शर्मा और उनकी पत्नी में बहस हुई। नौबत मारपीट तक आ गई। वायरल हो रहे वीडियो में बंगले पर मौजूद उनके स्टाफ बीच-बचाव करने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं। यह भी पढ़ें: यूपी में बढ़ते दलितों पर अत्याचार, मारपीट और अपमानित कर गाँव में घुमाया

देखें वीडियो-

डीजी द्वारा अपनी पत्नी से की गई मारपीट का मामला अब राज्य महिला आयोग भी पहुंच गया है। इस बात की भी संभावना जताई जा रही है कि शर्मा पर घरेलू हिंसा के मामले में एफआईआर दर्ज हो सकती है। उनकी पत्नी से राज्य महिला आयोग से शिकायत कर कहा है कि उन्हें अपने पति से जान का खतरा है। महिला आयोग से सुरक्षा की मांग भी की है।

वहीं स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा ने अब वीडियो में खुद के होने की बात कबूल कर ली है। उन्होंने कहा कि मैं कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार हूं। वहीं, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मैंने इसके बारे में पढ़ा है, इसे देखा है, लेकिन अधिकारियों से बात करने के बाद ही कोई जवाब दूंगा। अगर कोई शिकायत है तो हम निश्चित रूप से कार्रवाई करेंगे।

कश्मीरियों से मारपीट मामला : बीच-बचाव कर रहे लोग बोले- ‘कानून हाथ में लेने की ज़रूरत नहीं’, 5 खास बातें…

इससे पहले एसटीएफ और साइबर सेल के डीजी रह चुके पुरुषोत्तम शर्मा का नाम हनी ट्रैप केस में सामने आया था। हालांकि, पुरुषोत्तम शर्मा ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था और तत्कालीन डीजीपी वीके सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने वीके सिंह के सुपरविजन में बनी एसआईटी और गाजियाबाद का फ्लैट खाली कराए जाने पर भी सवाल उठाए थे।

पुरुषोत्तम शर्मा ने कहा था, ‘हनी ट्रैप मामले के लिए बनाई गई एसआईटी के सुपरविजन से डीजीपी वीके सिंह को हटा देना चाहिए। पहले एसआईटी का मुखिया आईजी सीआईडी को बनाया गया था। इसके बाद एडीजी स्तर के अधिकारी को कमान सौंपी गई। फिर इसके भी सदस्य बदल दिए गए और ऐसा करने से डीजीपी की भूमिका विवाद में आ जाती है। एसआईटी की जिम्मेदारी किसी डीजी स्तर के अधिकारी को दी जाए।’

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।