Madhya Pradesh: Shajapur privet hospital management tied patient to the rope, said- first pay the money!

इलाज के दौरान खत्म हुए पैसे, अस्पताल प्रबंधन ने मरीज को रस्सी से बांधा, कहा- पहले पैसे चुकाओ!

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report News Desk | Bhopal

कोरोना काल में इंसानियत के दोनो ही रूप देखने को मिल रहे हैं। कहीं अच्छे तो कहीं तो शर्मसार कर देने वाले। इस कड़ी में एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जहां इलाज के दौरान पैसे खत्म हो जाने पर मेडिकल स्टाफ ने मरीज को पलंग पर ही रस्सी से बांध दिया। इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला ये मामला मध्य प्रदेश के शाजापुर का है। जहां राजगढ़ जिले के रनारा गांव के रहने वाले लक्ष्मीनारायण शाजापुर स्थित एक प्राइवेट अस्पताल इलाज कराने पहुंचे थे लेकिन पैसे खत्म हो जाने पर मेडिकल स्टाप ने जानवरों की तरह सलूक करते हुए उन्हें उसी पलंग पर रस्सी से बांध दिया।

READ:  BJP attempts to topple my govt, offering 10-15 crore to MLAs, said Gehlot

इस मामले में लक्ष्मीनारायण की बेटी ने अस्पताल प्रबंधन पर आरोप लगाते हुए कहा है कि, शुक्रवार रात जब पैसे खत्म हो गए तो उन्होंने अस्पताल से छुट्टी कराना चाही लेकिन उन्हें रस्सी बांध दिया और कहा कि पहले पैसे चुकाओ। लेकिन बाद में जब परिजनों ने हंगामा किया तो काफी देर बाद उनकी रस्सी खोली गई।

वहीं अस्पताल प्रबंधन ने अपने बचाव में कहा है कि लक्ष्मीनारायम दिमागी बुखार से पीड़ित हैं। वे छटपटा रहे थे इसलिए उन्हें रस्सी से बांधा है। लेकिन मामला हाइलाइट होने के बाद कलेक्टर दिनेश जैन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

READ:  ये कोरोना रुप बदलता है, जानिए नए कोविड स्ट्रेन के बारे में बड़ी बातें

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस अमानवीय कृत्य के लिए दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर कहा, शाजापुर के एक अस्पताल में वरिष्ठ नागरिक के साथ क्रूरतम व्यवहार का मामला संज्ञान में आया है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। सख्त कार्रवाई की जाएगी।

%d bloggers like this: