Piue Ghosh a researcher at the Indian Institute of Technology(IIT) Gandhinagar, allegedly committed suicide by hanging himself on the night of July 3 inside her hostel room. Piue was a fifth-year PhD scholar in IIT Gandhinagar, as per the reports, parents of Puie were kept in the dark about the incident for almost 3 days.

छेड़छाड़ का विरोध करने पर दलित छात्रा की पत्थर से कुचलकर निर्मम हत्या

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सिवनी/भोपाल, 22 अगस्त। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले से एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर हर किसी की रूह कांप उठेगी। दरअसल एक लड़की को छेड़छाड़ का विरोध करना इतना भारी पड़ गया कि उसे अपनी जान से ही हाथ धोना पड़ा। मामला बीते सोमवार, सिवनी के कोतवाली पुलिस थाने से सटे गर्ल्स कॉलेज मार्ग का है जहां बीए की पढ़ाई कर रही 23 वर्षीय एक दलित छात्रा की कथित रूप से पत्थर से सिर कुचलकर दिनदहाड़े हत्या कर दी गई।

इस मामले में संबंधित अधिकारी एसडीओपी के के वर्मा ने बताया कि फुलारा निवासी अनिल मिश्रा (38) ने रानू नागोत्रा (23) के सिर पर एक बड़े  पत्थर हमला कर दिया। आरोपी अनिल मिश्रा ने दिन दहाड़े दोपहर करीब 12 बजे घटना को 12 बजे अंजाम दिया।

यह भी पढ़ें: SC/ST Act- हर 15 मिनट में दलित पर अत्याचार, कब आएंगे ‘अच्छे दिन’?

मृत छात्रा भी फुलारा गांव की ही रहने वाली थी जो सिवनी स्थित महिला महाविद्यालय में बीए सेमेस्टर 5 की छात्रा थी। छात्रा रोज की तरह नेताजी सुभाषचंद्र बोस गर्ल्स कालेज में सुबह पढ़ने के लिए जा रही थी। इसी बीच आरोपी अनिल मोटरसाइकिल से कॉलेज मार्ग पर पहुंचा और पैदल जा रही छात्रा के बाल पकड़कर रोक लिया।

इसके बाद आरोपी उसे खींचकर सड़क किनारे ले गया और जमीन में गिराकर उसके सिर पर एक बड़ा पत्थर पटक दिया, जिससे छात्रा लहूलुहान हो गई। उसे गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत लाया हुआ घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें: बीते 15 सालों में बच्चों के साथ रेप के 1 लाख 53 हजार मामले दर्ज, मॉब लिंचिंग में 3000 मौत

आसपास मौजूद लोग कुछ समझ पाते और छात्रा को बचाने की कोशिश करते इससे पहले ही आरोपी ने एक बड़ा पत्थर उसके सिर पर पटक दिया। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों की मदद से आरोपी शख्स अनिल मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया।

दिन दहाड़े गर्ल्स कॉलेज और कोतवाली थाने के पास हुई छात्रा की निर्मम हत्या से लोगों में दहशत है। पुलिस के मुताबिक, करीब छह महीने पहले 15 फरवरी 2018 को रानू ने अनिल पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया था।

यह भी पढ़ें: हम भगवान राम नहीं जो दलितों के घर खाना खाकर उन्हे पवित्र कर देंगे- उमा भारती

इसके बाद 7 मार्च 2018 को एससीएसटी एक्ट पुलिस ने अनिल के खिलाफ भादंवि की धारा 354 (स्त्री की लज्जा भंग करने के आशय से उस पर हमला या आपराधिक बल का प्रयोग), 506 (धमकाना) और एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कोर्ट में चालान पेश किया था।

शुरूआती जांच में पता चला है कि आरोपी अनिल मिश्रा बीते कई दिनों से छात्रा पर केस वापस लेने का दबाव बना रहा था जिसका वरोध करने पर आरोपी ने छात्रा की निर्मम हत्या कर दी। पुलिस ने धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें: ‘हिन्दू धर्म में स्वतंत्र सोच के विकास की कोई गुंजाइश नहीं’, डॉ. भीम राव अंबेडकर के 11 अनमोल विचार

समाज और राजनीति की अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर फॉलो करें- www.facebook.com/groundreport.in/

Comments are closed.