Home » दीपिका से लेकर जैकलीन तक सब उठा रहीं मनरेगा की मजदूरी, शिवराज सरकार में सबकी बल्ले-बल्ले!

दीपिका से लेकर जैकलीन तक सब उठा रहीं मनरेगा की मजदूरी, शिवराज सरकार में सबकी बल्ले-बल्ले!

Madhya Pradesh, Khargone, Deepika Padukone, Jacqueline Fernandez, MGNREGA scheme, Shivraj government,
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश के खरगोन (Madhya Pradesh Khargone) जिले में मनरेगा योजना (MGNREGA, ahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act, 2005) में बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण (Bollywood actress Deepika Padukone) से लेकर जैकलीन फर्नांडिज (Jacqueline Fernandes) जैसी कई अभिनेत्रियां और मॉडल्स मजदूरी कर रही हैं। क्या हुआ चौक गए ऐसा हम नहीं मनरेगा योजना (MGNREGA scheme) के दस्वावेज कह रहे हैं जहां दीपिका से लेकन जैकलिन जैसी करीब 12 अभिनेत्रियों के फर्जी दस्वावेज बनाकर उनके नाम से शिवराज सरकार के सरकारी अधिकारी हजारों रुपये डकार गए हैं।

खरगोन झिरन्या जनपद पिपरखेड़ा नाका पंचायत (Khargone Jhirnya District Piparkheda Naka Panchayat) में हुए इस फर्जीवाड़े में सरपंच से लेकर सचिव और रोजगार सहायक तक सब की संलिप्तता की जांच के आदेश दे दिए हैं। शुरूआती जांच में पाया गया है कि सरपंच, सचिव और रोजगार सहायक के द्वारा जॉब कार्ड पर पुरुष की तस्वीर की जगह फिल्मी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण और जैकलीन फर्नाडिज सहित कई अन्य अभिनेत्रियों की फोटो लगा दी गई। अधिकारियों ने ऐसे एक दर्जन फिल्मी अभिनेत्री और मॉडल के फोटो हितग्राहियों के नाम के साथ जोड़कर लाखों रुपये की राशि डकार ली है।

READ:  ऑक्सीजन टास्क फोर्स में शामिल 12 लोग कौन हैं? ये Task Force कैसे काम कर रही है?


ऐतिहासिक कदम: पहली बार मनरेगा के लिए 1 लाख करोड़ का बजट आवंटित

ये घोटाला तब उजागर हुआ जब सही हकदार हितग्राहियों ने ऑनलाइन मनरेगा साइट पर काम की राशि नहीं मिलने पर सर्चिंग की, तो उनके जॉब कार्ड फर्जी बने पाए गए। उनके नाम से फर्जी जॉब कार्ड पर अभिनेत्रियों के फोटो लगाए गए, साथ ही राशि भी निकाल ली गई। इतना ही नहीं फर्जी ढंग से राशि निकालने का ये सिलसिला महीनों तक चलता रहा।

इस मामले में मोनू दुबे बताते हैं कि जॉब कार्ड पर फिल्मी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का फोटो लगाकर उसके नाम से तीस हजार रुपये निकाले गए, जबकि वह काम पर गए ही नहीं। वहीं एक अन्य व्यक्ति के नाम पर अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडिज फोटो लगाकर लाखों रुपये की चपत सरकारी खजाने को लगाई। इसके अलावा बॉलीवुड की कई अभिनेत्रियों और मॉडल्स के फोटो फर्जी दस्दावेजों में लगाए गए और लाखों रुपये का फर्जीवाड़ा किया गया।

READ:  Corona Medicine 2-Deoxy-D-Glucose DRDO benefits: कोरोना में DRDO की दवा कितनी फायदेमंद?
खरोगन में मनरेगा योजना में हुए फर्जी दस्तावेज की एक तस्वीर जहां अभीनेत्री दीपिका पादुकोण की तस्वीर का उपयोग किया है।

JNUSU Election 2019 : कभी 40 रुपये दिहाड़ी तो कभी मनरेगा में मजदूरी, लेकिन आज दलित छात्र की अध्यक्ष पद पर दावेदारी

जबकि सच्चाई ये है कि जिस पंचायत में ये फर्जीवाड़ा हुआ है वहां के लोगों का कहना है कि मनरेगा में उन्हें कोई काम ही नहीं मिला है। लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए भी जूझ रहे हैं। सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक के साथ शासन-प्रशासन में ऊपर तक बैठे लोग भी इस भ्र्ष्टाचार में मिले हैं। मशीनों से काम करवाकर इस तरह फर्जीवाड़ा किया गया है। मामला सामने आने के बाद जिला पंचायत सीईओ गौरव बेनल ने जांच के आदेश दिए हैं, जिसमें दो प्रकार से जांच होगी फर्जी जॉब कार्ड कैसे बनाए गए और दूसरा कितनी राशि का फर्जीवाड़ा किया गया है।

READ:  IPL 2021: इस खिलाड़ी के पिता को हुआ कोरोना, अस्पताल में भर्ती

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।