मध्यप्रदेश सरकार छुपा रहीं है कोरोना से हुई मृत्यु के आंकड़े

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) में शिवराज(Shivraj) और भाजपा सरकार(BJP Government) पर कोरोना(Corona) से मौत(Death) के आंकड़े छिपाने का बड़ा इल्ज़ाम लगाया जा रहा है। इस इल्ज़ाम की एक मिसाल खुद भोपाल में पिछले दिनों हुईं अंत्येष्टि से समझा जा सकता है। पिछले 6 दिनों में भोपाल के श्मशान और कब्रिस्तान में कुल 102 कोरोना के शवों का अंतिम संस्कार किया गया है। लेकिन सरकारी रिकॉर्ड देखा जाए तो सिर्फ 6 मारीजों की कोरोना के कारण हुई मौत दर्ज है।

दरअसल 27 मार्च से 1 अप्रैल के बीच अकेले भदभदा विश्राम घाट में कोरोना के 84 शवों की अंत्येष्टि की गई है। परंतु भोपाल के बाहरी शवों को हटाकर देखा जाए तो अकेले भदभदा में 41 ऐसे शवों का अंतिम संस्कार किया गया है जो कि भोपाल के ही थे। शहर के अगर दूसरे विश्राम घाट की बात की जाए तो सुभाष नगर विश्राम घाट में कोरोना के 9 शवों का अंतिम संस्कार किया गया।  

READ:  भयावह: महाराष्ट्र के अहमदनगर में जली एक साथ कई चिताएं

ऐसी ही स्थिति राजधानी के झदा कब्रिस्तान की भी है। झदा कब्रिस्तान में कोरोना के 9 शवों को दफनाया गया, इसमें 5 शव कोरोना के थे। जब इन 6 दिनों के अंतराल में जब भोपाल में कोरोना से केवल 6 मौतें ही हुई, तब ऐसी स्थिति में 100 से भी अधिक कोरोना के शवों की अंत्येष्टि कैसे हो गई। 

ऐसा बताया जा रहा है कि कोरोना से मौत होने की संख्या इतनी ज़्यादा है कि एक ही एम्बुलेंस कोरोना के 5-6 शवों को लादकर लाया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भदभदा विश्राम घाट में तो रोज़ाना 14-15 की संख्या में कोरोना के शवों को अंत्येष्टि के लिए लाया जा रहा है। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.