मध्य प्रदेश उपचुनाव: ग्वालियर-चंबल संभाग की वो 16 सीटें जिन पर होना है उपचुनाव

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस ?
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव में राज्य की कुल 27 विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है। इसमें सबसे अधिक 16 सीटें ग्वालियर-चंबल संभाग की है। ग्वालियर चंबल संभाग सिंधिया का गढ़ भी माना जाता है। सिंधिया खेमे के कांग्रेस के वे बागी विधायक जिन्होंने बीजेपी का दामन थाम लिया है अब उनमें से सबसे अधिक ग्वालियर चंबल संभाग के ही हैं। देखा जाए तो इस इलाके में कुल 34 सीटे हैं। इनमें से इस इलाके में 16 सीटों पर उपचुनाव होना है।

ये हैं ग्वालियर चंबल संभाग की सीटें
ग्वालियर चंबल संभाग की इन सीटों में मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, लश्कर पूर्व, डबरा, मुरैना, जोरा, दिमनी, अंबाह, सुमावली, भांडेर, पोहरी, करेरा, मुंगावली, अशोक नगर, बमोरी जैसी विधानसभा सीटें शामिल हैं। वहीं अगर प्रत्याशियों की बात करें तो 16 में से 15 विधानसभा सीटों पर बीजेपी की ओर से उम्मीदवारों के नाम लगभग तय हैं। हांलाकि कांग्रेस ने अभी अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है।

READ:  Indore Corona: 5 सदस्य के परिवार में 3 की मौत, अस्पताल का बिल बना 16 लाख

Madhya Pradesh bypolls : अपनी साख बचाने के लिए फूंक-फूंक कर क़दम रख रहे कमलनाथ

जौरा विधानसभा सीट जो कांग्रेस एमएलए के निधन के चलते रिक्त हुई
इनमें से जौरा विधानसभा ऐसी सीट है जो किसी बागी दल बदलने की वजह से नहीं बल्कि कांग्रेस विधायक बनवारीलाल शर्मा के निधन के रिक्त हो गई थी। इस सीट पर बीजेपी किसे उम्मदवार घोषित करेगी इस पर अभी माथापच्ची जारी है। वहीं कांग्रेस की ओर से जौरा सीट के लिए पंकज उपाध्याय, मानवेन्द्र गांधी और राकेश यादव जैसे दिग्गज नेताओं के नाम आगे चल रहे हैं। देखना होगा कि यहां बीजेपी और कांग्रेस किसे अपना उम्मीदवार घोषित करती है।

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीएसपी की इस रणनीति ने बढ़ा दी बीजेपी-कांग्रेस की टेंशन!

बीएसपी का भी ग्वालियर-चंबल में दबदबा
इन उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी भी सक्रिय रूप से चुनाव लड़ रही है। इस इलाके के उत्तर प्रदेश से सटे होने के चलते बीएसपी का इन इलाकों में अच्छा-खासा दबदबा माना जाता है। बीएसपी ने घोषणा करते हुए कह दिया है कि इन चुनावों में वो सभी 27 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। इतना ही नहीं बीएसपी पहले ही अपने 15 प्रत्याशियों के नाम घोषित कर चुकी है।

READ:  मध्यप्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण रोकने में असफल, सतना के जज हुए शिकार

मध्य प्रदेश की वो 27 सीटें जिन पर चुनाव होना है
मध्य प्रदेश में जौरा और आगर सीटों पर उपचुनाव की तिथि 6 माह के पार हो चुकी है। वहीं 10 मार्च को कांग्रेस के 22 विधायक इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गए थे। 10 मार्च से 10 अगस्त तक 6 महीने पूरे हो चुके हैं। नियमों के मुताबिक, चुनाव 6 महीने के अंदर कराना जरूरी होता है। राज्य की नेपानगर, बड़ामलहरा, डबरा, बदवावर, भांडेर, बमौरी, मेहगांव, गोहद, सुरखी, ग्वालियर, मुरैना, दिमनी, ग्वालियर पूर्व, करेरा, हाटपिपल्या, सुमावली, अनूपपुर, सांची, अशोकनगर, पोहरी, अंबाह, सांवेर, मुंगावली, सुवासरा, जौरा, आगर-मालवा , मान्धाता विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है।

READ:  लोग कोरोना से मर रहे हैं और बीजेपी नेता राजश्री गुटखा के लिए चिंतित है

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।