मध्य प्रदेश: ऑनलाइन होगी जेल में बंद कैदियों की कोर्ट पेशी

Uttar Pradesh Azamgarh district magistrate NP Singh on Monday ordered a probe into the arrest of a journalist Santosh Jaiswal allegedly after he took photographs of some children mopping the floor in their school. journalist Santosh Jaiswal was arrested on false charges of extortion and obstructing public servants from discharging their duty, alleged a fellow journalist Sudhir Singh, who, along with other journalists met District Magistrate NP Singh to apprise him of the alleged illegal arrest.
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि कोरोना के चलते अब जेल में बंद कैदियों की कोर्ट पेशी भी ऑनलाइन कराई जाएगी। सरकार इस संबंध में 2 दिनों में निर्णय लेने जा रही है। छोटे जिलों मे भी पुलिस के लिए अत्याधुनिक मकान बनाए जाएंगे। कैदियों की पेशी भी अब वर्चुअल माध्यम से कराने पर सरकार विचार कर रही है।

भोपाल: लॉकडाउन में हो रहा गरीबों पर अत्याचार

इस मामले में नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में अब मैदानी पुलिसकर्मियों के लिए सर्वसुविधायुक्त आवास बनाए जाएंगे। वे अपने परिवार को कम समय दे पाते हैं। और इसलिए पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन को हर भवन में लाइब्रेरी भी बनाने को कहा है।

ये हैं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा जो बिना मास्क लगाए जनता से मिल रहे हैं!

कोरोना की विवेचना करते हुए नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि स्वास्थ मंत्री भोपाल के हैं पूरी व्यवस्था ठीक है बेड भी काफी संख्या मे हैं। कोरोना मरीज टेस्ट कराता है, रिपोर्ट आने मे देरी होती है लिहाजा अस्पताल मे उसे कैसे भर्ती किया जा सकता है। रिपोर्ट आने तक कैसे भर्ती किया जा सकता है।किसी भी मरीज की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई और उसे भर्ती होने मे दिक्कत हुई उसके लिए सरकार क्षमा प्रार्थी है और गलतियों को सुधार किया जाएगा।

Written by Suyash Bhatt, He is a journalist based in Bhopal Madhya Pradesh.

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.

ALSO READ:  छेड़छाड़ का विरोध करने पर दलित छात्रा की पत्थर से कुचलकर निर्मम हत्या