दिग्विजय बोले- बीजेपी चुनाव अधिकारियों के दम पर जीतना चाहती है उपचुनाव

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीजेपी को हराने के लिए ये है कांग्रेस का मास्टर प्लान

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव में कांग्रेस अवैध उत्खनन को मुद्दा बना सकती है। कांग्रेस के मास्टर प्लान में यह एक अहम मुद्दा होगा इसकी दम पर वह एक बार फिर सत्ता हासिल करने की तैयारी कर रही है। इस मामले में कांग्रेस के दिग्गज नेता पूर्व सहकारिता मंत्री और सिंधिया पार्टी के अंदर धुर विरोधी रहे गोविंद सिंह ने कहा कि वे अवैध उत्खनन को लेकर यात्रा निकालने वाले हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि उनकी ये यात्रा राजनीति से ऊपर होगी।

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीजेपी की योजना जमीनी स्तर पर तय!

सितंबर में नदी बचाओं यात्रा
ऑनलाइन न्यूज चैनल ईटीवी भारत से बातचीत में कांग्रेस नेता गोविंद सिंह ने कहा कि 15 अगस्त को उन्होंने अवैध उत्खनन को लेकर उपवास किया था। लेकिन उपवास के बाद और अवैध उत्खनन बढ़ गया है। जिसको लेकर वो एक बार फिर सितंबर महीने में सिंध और चंबल नदी को रेत माफिया से बचाने के लिए नदी बचाओं यात्रा करेंगे। यात्रा में जनता के अलावा सर्वोदय नेता राज गोपाल, कम्प्यूटर बाबा, जल पुरूष राजेन्द्र सिंह शामिल होंगे। इस यात्रा में कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भी शामिल हो सकते हैं।

READ:  J&K Panchayat polls  to be held in eight phases from March 5

मध्य प्रदेश उपचुनाव: ‘बीजेपी के खिलाफ लोगों में आक्रोश, कांग्रेस करेगी वापसी’

चढ़ सकता है सियासी पारा
उन्होंने इसेक बाद कहा कि, यात्रा की तारीख अभी तय नहीं की गई है लेकिन ये तय है कि यात्रा सितंबर महीने में शुरू होगी जो तीन दिन भिंड जिले में रहेगी सिंध नदी से गुरजरेगी इसके बाद तीन दिन यात्रा चंबल नदी किनारे से गुजरेगी। फिर उसके बाद यात्रा एक दिन भिंड जिले के उमरी से लेकर रोन तक जाएगी। दो दिन दतिया में पद यात्रा रहेगी ये पूरी यात्रा चंबल और सिंध के किनारों से गुजरेगी। यात्रा का मकसद एक ही है अवैध उत्खनन को रोक जाए। लेकिन ये पूरी यात्रा राजनीतिक तौर पर देखी जा रही है क्योंकि आने वाले समय में जिन 27 सीटों पर उपचुनाव होने है उनमें से 16 सीटें चंबल की है और यहीं तय करेगा आने वाली सत्ता एमपी की किस हाथ में रहेगी।

READ:  कांग्रेस पार्टी को एक और बड़ा झटका, इस बड़े नेता ने सिंधिया की मौजूदगी में भाजपा का थामा दामन

मध्य प्रदेश उपचुनाव : अंदरूनी कलह से जूझ रही बीजेपी, प्रत्याशी चयन करना मुश्किल!

इसके बाद उन्होंने कहा कि, 22 अगस्त को सिंधिया चंबल दौरे पर रहे हैं और बीजेपी के नेता दावा कर रहे हैं कि इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने हजारों की तदाद में कांग्रेस के कार्यकर्ता बीजेपी में शामिल होंगे। जिसपर गोविंद का कहना है कि सिंधिया ने जो अपने दलाल जोड़ रखे हैं कांग्रेस में वही बीजेपी में जाएंगे सच्चा कांग्रेसी बीजेपी में नहीं जाएगा।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।