madhya pradesh by Elections 2020: bjp burns effigy kamalnath with red shoes accuses complicity china rajiv gandhi foundation

बीजेपी की खरीद-फरोख्त की राजनीति ने देश को कलंकित किया: कमलनाथ

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव के चलते सूबे में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने एक प्रेस क्रॉफ्रेंस के दौरान बीजेपी पर एक एककर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने बीजेपी और शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा कि विधायकों की खरीद-फरोख्त करके बीजेपी ने देश के लोकतंत्र को कलंकित किया है।

Madhya Pradesh By-Elections 2020: मध्य प्रदेश में कब होंगे उपचुनाव?

उपचुनाव को लेकर कमलनाथ ने कहा कि, यह कोई आम चुनाव नहीं है, मैं तो इसे उपचुनाव भी नहीं मानता, यह चुनाव तो मध्यप्रदेश के भविष्य का चुनाव है। भाजपा बताएं कि वह कौन सी 4 सीटें जीतने वाली है? उन्होंने कहा, हमारा मुकाबला भाजपा से है, उनकी कोई उपलब्धियां तो है ही नहीं, जिन से हम मुकाबला करें।

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीजेपी की योजना जमीनी स्तर पर तय!

कमलनाथ ने कहा, राज्य के 26 लाख से अधिक किसानों का हमने कर्ज माफ किया है, मेरे पास इसके प्रमाण है पेनड्राइव के रूप में, जिसमें उन किसानों के नाम, पते, मोबाइल नंबर, अकाउंट नंबर और कितना कर्जा माफ हुआ है, उसकी राशि दर्ज है। मैं मीडिया को भी यह उपलब्ध करा रहा हूं, यह हमारे कर्ज माफी का प्रमाण है, यह भाजपा के झूठ की पोल खोल रहा है।

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीएसपी की इस रणनीति ने बढ़ा दी बीजेपी-कांग्रेस की टेंशन!

जो कर्ज माफी को लेकर आरोप लगा रहे हैं वे स्वयं कर्ज माफी के कार्यक्रम में शामिल हुए हैं, इसके प्रमाण मेरे पास है। भाजपा सिर्फ़ झूठ आधारित राजनीति करती है , वह सिर्फ प्रचार- प्रसार की राजनीति कर प्रदेश की जनता को गुमराह व भ्रमित करने में लगी हुई हैं।

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीजेपी को हराने के लिए ये है कांग्रेस का मास्टर प्लान

भाजपा ने मध्यप्रदेश में कैसे संविधान और प्रजातंत्र के साथ खिलवाड़ किया है , यह सभी जानते हैं।मध्यप्रदेश में सौदेबाजी कर व बोली लगाकर जनता की चुनी हुई लोकप्रिय सरकार को गिराया गया है। उन्होंने कहा कि, जिस राज्य में राजनीति को भाजपा ने बिकाऊ बनाया है ,वहां सब कुछ बिकाऊ है , यह भाजपा सरकार में ही संभव है।

चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, तय समय पर होंगे मध्यप्रदेश में उपचुनाव

खरीद-फरोख्त की राजनीति से देश में प्रदेश कितना कलंकित हुआ है , यह सभी जानते हैं। मैं तो मध्यप्रदेश की पहचान बदलने में लगा था, भाजपा को यह सहन नहीं हुआ इसलिए मेरे सरकार गिराई गई। बता दें कि मध्य प्रदेश में कुल 27 सीटों पर उपचुनाव होना है हांलाकि तारीख को लेकर संशय बना हुआ है लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि नवंबर से पहले किसी भी वक्त चुनाव हो सकते हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।