मध्य प्रदेश उपचुनाव: ग्वालियर में कमलनाथ का शिवराज पर निशाना, बताया नालायक

Madhya Pradesh by-elections 2020, Big scam exposed in BJP Shivraj government under questions congress kamalnath Madhya Pradesh By Elections 2020: BSP Leaders joins congress kamalnath BJP Shivraj Singh Chouhan
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव में तल्ख बयानबाजी का दौर शुरू हो चुका है। ग्वालियर (Gwalior) में रैली (Congress Rally) के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) को नालायक तक कह डाला। शनिवार को ग्वालियर में रैली के दौरान कमलनाथ ने शिवराज पर निशाना साधते हुए उन्हें नालायक कहा। इस पर पलटवार करते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि यदि कमलनाथ को आरोपों का कीचड़ ही अच्छा लग रहा है तो मुझे कोई आपत्ति नहीं है। कौन लायक है, कौन नालायक, यह तो जनता तय करेगी। अब कमलनाथ खुद इस पर विचार करें।

कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी की कोरोना से मौत, बीजेपी सांसद सिंधिया ने दी ये प्रतिक्रिया

इससे पहले शुक्रवार को कमलनाथ ने राजधानी भोपाल में बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा था- मुझे शर्म आती है, जब मैं दिल्ली जाता हूं और लोग पूछते हैं कि आपके प्रदेश की छवि बिकाऊ वाली बन गई। इस पर शिवराज ने जवाब देते हुए कहा था- ऐसा कहना प्रदेश की 8 करोड़ जनता का अपमान है। कमलनाथ को जनता से माफी मांगनी चाहिए।

READ:  पथरिया विधायक रामबाई के फरार पति भिंड से गिरफ्तार, एसटीएफ ने हटा न्यायालय में किया पेश

Madhya Pradesh bypolls : अपनी साख बचाने के लिए फूंक-फूंक कर क़दम रख रहे कमलनाथ

अपने दो दिवसीय ग्वालियर दौरे के अंतिम दिन कमलनाथ ने अंतिम दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, मैंने अपने कार्यकाल में 26 लाख किसानों के कर्ज माफ किए। अब शिवराज इतने नालायक तो हैं नहीं कि वह समझ न सकें कि ये कैसे किया गया है। हमने दो लाख तक के सभी किसानों के कर्ज माफ करके मदद की। जबकि, शिवराज के 15 साल के कार्यकाल में किसानों को आत्महत्या तक पर मजबूर होना पड़ा।

मध्य प्रदेश उपचुनाव की पूरी कमान कमलनाथ ने संभाल रखी है

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को कदम-कदम पर विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ रहा है। चंबल की 16 सीटों पर होने वाले उपचुनाव के दौरान रैलियां कर रहे सिंधिया का न सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं बल्कि बीजेपी में उन्हें लेकर अंदरुनी कलह बनी हुई है। क्योंकि कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए 22 बागी विधायकों के बाद बीजेपी के अपने उम्मीदवार और क्षेत्र के कद्दावर नेताओं के राजनीतिक भविष्य पर तलवार लटक चुकी है।

READ:  Tragic, after being raped, this young girl was tied up and beaten by villagers

मध्य प्रदेश उपचुनाव 2020: 24 सीटों के लिए कांग्रेस की प्लानिंग, कमलनाथ को मिली ये दो अहम जिम्मेदारी

बहरहाल, देखना होगा कि इस उपचुनाव में शिवराज-सिंधिया फैक्टर कितना सार्थक साबित होता है और कमलनाथ की रणनीति क्या रंग लाती है। चुनाव आयोग पहले ही साफ कर चुका है कि मध्य प्रदेश में उपचुनाव बिहार चुनाव के साथ ही होंगे। चुनाव आयोग ने कहा है कि नवंबर से पहले-पहले चुनाव होंगे हांलाकि तारीख की घोषणा अभी नहीं की गई है लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि मध्य प्रदेश में 15 नवंबर तक उपचुनाव हो सकते हैं।

मध्य प्रदेश उपचुनाव : शिवराज का कमलनाथ-दिग्विजय पर निशाना कहा, वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया

READ:  बिगड़ रहे हैं मध्यप्रदेश में हालात, कई शहरों में 10 दिन का पूर्ण लॉकडाउन

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups