सिंधिया बोले, मैं आपकी ढाल-तलवार बनूंगा, अतिथि शिक्षक ने टोकते हुए कहा- आप कुछ भी नहीं बन पाए महाराज

मध्य प्रदेश उपचुनाव में चुनावी सभाओं का दौर जारी है। कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया उस दौरान असहज हो गए जब एक अतिथि शिक्षक ने भाषण के दौरान उन्हें टोकते हुए कहा, आपने वादे बड़े किए लेकिन आप कुछ नहीं बनें। न आप तलवार बनें न आप ढाल बनें। मामला दतिया जिले के भांडेर विधानसभा में हो रहे उपचुनाव के लिए आयोजित एक चुनावी सभा का है जहां ज्योतिरादित्य सिंधिया कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल हुए और जनता को संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अतिथि शिक्षिकों को लेकर कहा कि मैं आपकी ढाल और तलवार दोनों बनूंगा लेकिन तभी एक अतिथि शिक्षक ने सिंधिया के बीच भाषण में टोकते हुए कहा आपने अतिथि शिक्षकों के बारे में कुछ नहीं बोला। सिंधिया ने इसका जवाब देना शुरू ही किया था कि टोकने वाले अतिथि शिक्षक ने दोबारा कहा कि आप न तो ढाल बनें, न ही तलवार बनें। इस दौरान सिंधिया रुके नहीं और आगे बोलते रहे।

मध्य प्रदेश उपचुनाव : चुनावी सभा में अब इतने लोग हो सकेंगे शामिल, देखें नई गाइडलाइन

वहीं दूसरी ओर चप्पे-चप्पे पर सिंधिया और बागी विधायकों को विरोध का सामना करना पड़ रहा है। बीते दिनों मेहगांव में शिवराज के साथ-साथ चल रहे सिंधिया को काले झंडे दिखाए गए। काले झंडे दिखाने के चलते कई कांग्रेसी गिरफ्तार भी लिए गए। ये लोग सिंधिया गद्दार लिखी तख्तियां और काले झंडे लेकर पहुंचे थे। मुरैना के दिमनी में भी विरोध प्रदर्शन किया गया। पाय का पुरा इलाके में कांग्रेसियों ने काले झंडे लेकर नारेबाजी की।

Also Read:  Viral Video: Woman beaten by lawyer in MP her baby seen lying on ground

बता दें कि, मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। चुनाव आयोग ने घोषणा करते हुए कहा कि इन सीटों पर 3 नंवबर को वोटिंग होगी और 10 नवंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे। वहीं मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में पहली बार मतदाओं को घर से ही वोट डालने की सुविधा मिलने जा रही है। यह मोबाइल पोलिंग टीम होगी, जो ऐसे मतदाताओं के घर जाकर बाकायदा फोल्डिंग टेबल पर कंपार्टमेंट बनाएगी। इसके बाद यहीं पर पोस्टल बैलेट से मतदान कराया जाएगा। दरअसल बुजुर्ग,दिव्यांग और कोरोना पीड़ित मतदाताओं के घर पर पहली बार मतदान केंद्र आएगा।

‘शिवराज एक जेब में 50 करोड़ का तो दूसरी जेब में 50 हजार करोड़ का नारियल रखते हैं, जहां मौका मिलता है फोड़ देते हैं’

उप जिला निर्वाचन अधिकारी,ग्वालियर आशीष तिवारी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि इस बार कोरोना संक्रमण के कारण आयोग की ओर से कोरोना प्रोटोकॉल भी जारी किया गया है। बुजुर्ग,दिव्यांग और कोविड पीड़ित मरीजों के लिए पोस्टल बैलेट का विकल्प रखा गया है। उनके घर पर जाकर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया जाएगा।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।