पुलिस विभाग हो या शिक्षा-स्वास्थ्य, सभी विभागों में हज़ारों पदों पर की जाएगी भर्ती : शिवराज

पुलिस विभाग हो या शिक्षा-स्वास्थ्य, सभी विभागों में हज़ारों पदों पर की जाएगी भर्ती : शिवराज

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में योजनाओं का पिटारा प्रतिदिन खुल रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को मिंटो हाल में आयोजित 145 सरकारी स्कूलों के भवनों के वर्चुअल लोकार्पण के दौरान संबोधन में कहा कि मध्य प्रदेश में अब जगह-जगह स्कूल खुलेंगे और दीपावली के बाद बच्चे नए स्कूल भवन में पढ़ाई करेंगे।

उन्होंने कहा कि अब प्रदेश में पढ़ाई का एक बेहतर माहौल बनेगा, जहां सभी सुविधाएं मौजूद रहेंगी। पैसों के अभाव में भी अब किसी की पढ़ाई नहीं रुकेगी। पहले स्कूलों में बैठने की व्यवस्था तक नहीं होती थी। बेहतर माहौल नहीं मिलता था। खास तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों की बेटियां गांव से बाहर जाकर पढ़ने के लिए मजबूर होती थीं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।

READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव : एक क्लिक में समझें नेपानगर विधानसभा सीट का चुनावी समीकरण

मध्य प्रदेश उपचुनाव : कांग्रेस का उपचुनाव जीतने का ख़्वाब शेख़चिल्ली की तरह है : गोविंद राजपूत

वर्चुअल लोकार्पण करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में मिशन-10000 के तहत ऐसे स्कूल निर्मित किए जाएंगे, जिसमें खेल का मैदान, भवन, आधुनिक लैब और बस की भी सुविधा हो। इसमें स्कूल शिक्षा विभाग के 129 और आदिम जाति कल्याण विभाग के 13 कन्या शिक्षा परिसर एवं 3 छात्रावास भवनों का लोकार्पण किया गया। इन शैक्षिक भवनों के निर्माण में 497 करोड़ की राशि खर्च हुई है।

उन्होंने कहा कि गुरु का सम्मान जरूरी है और गुरु सम्मान पूर्वक जीवन जीएं। इसके लिए सरकार कटिबद्ध है। हमारे शिक्षक राष्ट्र के निर्माता होते हैं। बच्चों में कौशल विकास बहुत जरूरी है। अब कक्षा छठवीं से बच्चों को व्यवसायिक शिक्षा दी जाएगी।

READ:  एक क्लिक में समझें मध्य प्रदेश उपचुनाव का पूरा गणित

मध्य प्रदेश उपचुनाव : हाईटेक प्रचार के लिए बीजेपी ने तैयार किए रथ, ये है इस रथ की ख़ासियत..

मुख्यमंत्री ने कहा कि चाहे पुलिस विभाग हो या शिक्षा-स्वास्थ्य, सभी विभागों में हजारों पदों पर भर्ती की जाएगी। गैर सरकारी क्षेत्रों में भी रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएंगे।कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिहं परमार, मंत्री ओम प्रकाश सकलेचा और स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।