ज्योतिरादित्य सिंधिया व उनके सचिव पर चुनाव के टिकट बेचने का आरोप !

सिंधिया का कमलनाथ पर हमला, कांग्रेस को लेकर कही ये बड़ी बात

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को कमलनाथ पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी सरकार केवल पैसे को आधार बनाकर काम कर रही थी। सिंधिया ने कहा कि मैंने राजनीति का नहीं, जनसेवा का रास्ता चुना है। मुझे पद की लालसा नहीं है, बल्कि मैं विकास के लिए काम करना चाहता हूं।

कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान पर सिंधिया ने कहा, इमरती देवी को ‘आइटम’ कहने के बाद बचाव में कमलनाथ ने कहा कि वह उनका (इमरती देवी) नाम भूल गए हैं। जो आपके मंत्रिमंडल में था, उसका नाम आप कैसे भूल सकते हैं? क्योंकि वह एक महिला हैं, दलित हैं? क्या यही उनकी और कांग्रेस की महिलाओं के बारे में सोच है? वह अहंकार से भरे हुए हैं और लोग इसे तोड़ देंगे। 

READ:  बीजेपी प्रत्याशी सुरेश धाकड़ बोले, मैंने अपने आपको बीजेपी को बेच दिया है लेकिन मैं सिंधिया के लिए बिका हूँ...

उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता है कि भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में कहीं भी ऐसी सरकार रही हो और वो भी 15 साल विपक्ष के तौर पर रहने का बाद, जहां सरकार बनने के बाद उसकी पार्टी के 22 विधायक उसका नेतृत्व छोड़ दें। 

READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव : कमलनाथ कैसे दे सकते हैं शिवराज को पटखनी, समझे इन आंकड़ों की मदद से..

निकिता तोमर हत्याकांड: एकतरफा प्यार, अपहरण और हत्या की नाटकीय कहानी

सिंधिया ने कहा, कांग्रेस आरोप लगा रही है क्योंकि उन्होंने सत्ता खो दी है। वे मध्यप्रदेश की जनता से प्यार नहीं करते और केवल सत्ता की बात करते हैं। कमलनाथ अब प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं, लेकिन सीएम के रूप में उन्होंने एक भी जिले का दौरा नहीं किया। उस समय पैसा ही उनकी एकमात्र चिंता थी, अब वे सत्ता के लिए वोट चाहते हैं।   

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।