Home » राहुल गांधी की फोटो के साथ कांग्रेस का ‘वचन पत्र’, कमलनाथ बोले- अब शिवराज को जनता मारेगी तमाचा

राहुल गांधी की फोटो के साथ कांग्रेस का ‘वचन पत्र’, कमलनाथ बोले- अब शिवराज को जनता मारेगी तमाचा

Madhya Pradesh By Elections 2020: If KamalNath becomes CM, the government will pay the examination fee of the youth, read the promise letter of MP Congress कमलनाथ CM बनें तो युवाओं का परीक्षा शुल्क देगी सरकार, ये है कांग्रेस का वचन पत्र राहुल गांधी की फोटो के साथ कांग्रेस का 'वचन पत्र', कमलनाथ बोले- अब शिवराज को जनता मारेगी तमाचा
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस के वचनप पत्र पर राहुल की फोटो न होने पर मचे सियासी घमासान के बीच शनिवार को दोबारा से राहुल गांधी की फोटो के साथ कांग्रेस का वचन पत्र जारी किया गया। हालांकि, अब इस वचन पत्र से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह गायब हैं।

शनिवार को पीसीसी चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने सरकारी आवास पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी और पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा की उपस्थिति में इसे जारी किया।

मध्य प्रदेश : पति ने पत्नी और बेटी की हत्या कर कुल्हाड़ी से किए 22 टुकड़े, ग्रामीणों ने पकड़ा

इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि पुराना कांग्रेस का वचन के न तो वचन निभाए और न ही वादे पूरे किए। लिखा और भूल गए। केवल लिखना है। जनता इनके वादे और वचन इनकी असलियत सब जानती हैं।

READ:  Election Commission bans all victory processions on or after May 2 amid spike in COVID-19 cases

भाजपा नेता और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी तंज कसा है। उन्होंने कहा कि यह कमलनाथ का वचन नहीं, कपट पत्र है। जनता सब जानती है। लिखा और कहा भी था कि 10 दिन में पूरा कर देंगे। वो पूरे हुए नहीं। नए करने कहा गया। वादे हैं, वादों का क्या? और दूसरा वो जानते हैं कि करना तो कुछ है नहीं।

14 वर्षों में 13 गुना बढ़ गई CM शिवराज की संपत्ति, इतने करोड़ रुपये के मालिक हैं हमारे मुख्यमंत्री

कमलनाथ ने कहा कि पिछले वचन पत्र में 974 मुद्दे शामिल थे। 15 महीने की सरकार में इनमें से 574 वचन किए पूरे किए। जनता इसकी गवाह है। कोविड का शुरू में तो शिवराज मजाक उड़ाते थे। पिछले 7 महीने में नारियल फोड़ने, बेमतलब की बात करने में गवां दिए। इस उपचुनाव में जनता शिवराज से मुंह नहीं मोड़ेगी, बल्कि तमाचा मारेगी।

READ:  Election Commission bans all victory processions on or after May 2 amid spike in COVID-19 cases

हम मध्य प्रदेश के अगले 3 साल का रोडमैप बना रहे हैं। जनता ने 15 साल बाद भाजपा को घर बैठाया था। कोरोना में मृत व्यक्तियों के परिवार को पेंशन दी जाएगी। हम 2 लाख तक का किसानों का ऋण माफ करेंगे। बिना ब्याज का ऋण का मुद्दा भी शामिल है। इसमें कुल 52 मुद्दे शामिल किए गए हैं।

इमरती देवी का बड़ा आरोप : जो विधायक मंत्री नहीं बन पाए थे कमलनाथ उन्हें 5-5 लाख रुपए देते थे

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।