Meri kursi bacha lijiye warna mujhe jhola taang kr jaana padega

शिवराज की जनता से गुहार : मेरी कुर्सी बचा लीजिए वरना मुझे झोला टांगकर जाना पड़ेगा..

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव का माहौल विधानसभा चुनाव से ज़्यादा दिलचस्प होता जा रहा है। कांग्रेस और भाजपा दोनो इस चुनाव को जीतने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। मुरैना की एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज ने लोगों से बीजेपी को जिताने की गुहार लगाते हुए कहा कि अगर मतदाताओं ने ऐसा नहीं किया तो उनकी मुख्यमंत्री की कुर्सी चली जाएगी और फिर उन्हें उन्हें झोला टांग कर जाना पड़ेगा।

शिवराज ने यह बात शुक्रवार को मुरैना विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले खरगपुर भर्राड में आयोजित जनसभा में कही। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लगता है मध्य प्रदेश उपचुनाव के नतीजे आने से पहले ही हार का डर सताने लगा है। अब तक अपनी सभाओं में आक्रामक तेवर दिखाने वाले शिवराज अब रक्षात्मक मुद्रा में दिख रहे हैं।

ALSO READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव : चुनावी सभा में अब इतने लोग हो सकेंगे शामिल, देखें नई गाइडलाइन

5 साल में 123% बढ़ी प्रभुराम चौधरी की संपत्ति, साँची सीट से बीजेपी प्रत्याशी के बारे में खास बातें

मुरैना से बीजेपी प्रत्याशी रघुराज सिंह कंसाना ने कहा कि कमल नाथ की सरकार में उन्हें केवल अपमान सहना पड़ा। अगर मैं इस्तीफा नहीं देता तो जनता मुझे कभी माफ नहीं करती। इसके साथ ही बीजेपी प्रत्याशी ने कहा कि क्षेत्र में अब तक जो विकास हुआ है वो बीजेपी के कार्यकाल में ही हुआ है। कमल नाथ सरकार ने क्षेत्र के विकास पर ज़रा भी ध्यान नहीं दिया।

शिवराज ने कहा कि यह उपचुनाव केवल प्रत्याशियों की जीत या हार का चुनाव नहीं है बल्कि यह चुनाव सरकार को टिकाऊ बनाने का भी चुनाव है। इसलिए मतदान के दिन आप बीजेपी के पक्ष में वोट देकर हमारे उम्मीदवार को जिताएं, क्योंकि अगर बीजेपी नहीं जीती तो मैं  मुख्यमंत्री नहीं रह जाऊंगा और मुझे झोला टांग कर जाना पड़ेगा।

ALSO READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव से पहले सिंधिया के ये मंत्री अपने पद से देंगे इस्तीफा

साँची से कांग्रेस प्रत्याशी मदनलाल चौधरी की हुंकार, बीजेपी के प्रभुराम को सीधी टक्कर

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।