Lockdown again

Lockdown Extension: घर पर ही रहिए, 30 मई तक बढ़ सकता है लॉक डाउन…

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report, News Desk:

मुख्यमंत्रियों के सुझाव के बाद सरकार लॉकडाउन(Lockdown) को 30 मई तक बढ़ा सकती है, ये लॉकडाउन का चौथा चरण(4.0) होगा. भारत में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 85, 874 हो गई है. हर रोज़ लगभग तीन हज़ार से ज्यादा मरीज़ बढ़ते जा रहे हैं. लॉकडाउन में सब आर्थिक गतिविधियां बंद हैं और लगभग पूरा देश लॉकडाउन के ख़त्म होने का इंतज़ार कर रहा है. लेकिन हर रोज़ बढ़ रहे इन मामलों को देखते हुए सरकार भी लॉकडाउन को एक झटके में ख़त्म करने के पक्ष में नहीं है.

ग्रीन और ऑरेंज ज़ोन में थोड़ी छूट के साथ लॉकडाउन को 30 मई तक बढ़ाए जाने की संभावना है. सरकार इसकी घोषणा आज कर सकती है. सूत्रों की माने तो लॉकडाउन के चौथे चरण में प्रतिबंधों में थोड़ी रियायत देखने को मिलेगी.

READ:  Barring one, entire village in Himachal Pradesh’s Lahaul tests positive for COVID-19

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग की बैठक में सुझाव मांगे थे. ये सुझाव सभी राज्यों को 15 मई शाम 5 बजे तक भेजने थे. ज्यादातर राज्यों ने लॉकडाउन को बढ़ाने का सुझाव दिया है. सभी राज्य इस बात से चिंतित दिखाई दिए कि अगर एक ही बार में लॉकडाउन हटा लिया गया, तो COVID-19 मामलों की संख्या बढ़ सकती है.

लॉकडाउन 4.0 के दौरान पालन किए जाने वाले दिशानिर्देशों को प्रधानमंत्री द्वारा अंतिम रूप देंगे और शनिवार को गृह मंत्रालय द्वारा जारी किया जा सकता है. लॉकडाउन का मौजूदा तीसरा चरण, जो 2 मई को लगाया गया था, 17 मई को समाप्त होगा. शहरों में मेट्रो रेल सेवाएं बंद ही रहेंगी क्योंकि अधिकतर मेट्रो स्टेशन कन्टेनमेंट जोन यानि नियंत्रण क्षेत्रों में आते हैं. इन सभी कन्टेनमेंट ज़ोन में “कर्फ्यू” जैसी स्थिति बारकरार रहेगी.

READ:  मोदी-शाह ने शिवराज से किया किनारा, भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से नाम गायब

केंद्र सरकार हवाई यात्रा शुरू करने के पक्ष में थी लेकिन कई राज्यों ने इस विचार का विरोध किया. हवाई यात्री को शुरू करना न करना राज्य सरकार तय करेंगी. लेकिन अगर एयरलाइन शुरू भी की जाती हैं तो भी लॉक डाउन के नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा. सोशल डिस्टेंसिंग, बीच की सीटें खाली रखना, और मास्क और सेनिटिज़र का इस्तेमाल जैसे नियमों का पालन करना होगा.

रेड ज़ोन में बस चलने की अनुमति नहीं होगी. इन क्षेत्रों में ऑटो रिक्शा में अधिकतम दो यात्री बैठ सकेंगे और कैब चलने की भी अनुमति हो सकती है. कुछ दुकानें खुल सकती हैं वहीँ मॉल बंद ही रहेंगे. रेल सुविधाएं केवल विशेष मार्गों के लिए हो सकती हैं जो मुफ्त नहीं होंगी. कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार रेड, ऑरेंज और ग्रीन ज़ोन को परिभाषित भी कर सकती है

READ:  अगर ट्रंप और बाइडेन के बीच मुक़ाबला टाई हो जाता तो क्या होता ?

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

%d bloggers like this: