Lockdown again

कोरोनावायरस: फिर सख्त लॉकडाउन की ओर बढ़ता देश?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारत में कोरोनावायरस के मामले रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ते जा रहे हैं, इसे देखते हुए कई राज्य दोबारा सख्त लॉकडाउन लागू करवा रहे हैं। भारत दुनिया में कोरोनावायरस के मामले में तीसरे नंबर पर आ गया है। भारत में कुल मामले 767,296 पर पहुंच गए हैं। वहीं भारत से ऊपर पहले नंबर पर अमेरिका है जहां कुल 30 लाख 77 हज़ार मामले हैं वहीं दूसरे नंबर पर ब्राज़ील है जहां 17 लाख से अधिक मामले हैं। ब्राज़ील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो भी कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं।

किन-किन राज्यों में दोबारा लॉकडाउन

अगर राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र 2,30,599 मामलों के साथ पहले नंबर पर है, तमिलनाडू 1,26,581 मामलों के साथ दूसरे और दिल्ली 1,07,051 मामलों के साथ तीसरे नंबर पर है।

ALSO READ:  Lockdown 4.0: आख़िर मोदी सरकार 20 लाख करोड़ लाएगी कहां से?

उत्तर प्रदेश

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में एक बार फिर से लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। 10 जुलाई की रात 10 बजे से लेकर 13 जुलाई की सुबह पांच बजे तक राज्य में लॉकडाउन लागू रहेगा। इस दौरान सिर्फ आवश्यक सामान की दुकानें और अस्पताल ही खुले रहेंगे। बाकी की सभी चीजों पर पाबंदी रहेगी। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना पीड़ितों की संख्या 31 हजार पार हो चुकी है और राज्य में अब तक 845 लोगों की जान जा चुकी है। राज्य में फिलहाल 9 हजार 900 से ज्यादा एक्टिव मामले हैं वहीं, 20 हजार से ज्यादा लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई।

ALSO READ:  योगी सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को दी ये हिदायत!

असम

वहीं असम के जोरहाट जिले में 1 हफ्ते का सख्त लॉकडाउन लागू किया गया है। यह लॉकडाउन 9 जुलाई से 15 जुलाई तक लागू रहेगा। इस दौरान वाहनों की आवाजही, दफ्तरों का खुलना, गैर ज़रुरी दुकानों के खोलने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। यह कदम अचानक 253 नए मामले आने के चलते उठाया गया। यह मामले अकेले जोरहाट जिले में आए हैं।

ओडिशा

ओडिशा के गंजम जिले में भी कंप्लीट लॉकडाउन लागू किया गया है। सभी शहरी और 5 ब्लॉक मुख्यालयों में 5 दिन तक लॉकडाउन रहेगा। . यह सख्त कदम जिले में मामलों की संख्या 2,621 हो जाने के कारण उठाया गया। मंगलवार को गंजम जिले में 273 मामले सामने आए। लॉकडाउ के दौरान घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी।

ALSO READ:  सितंबर से स्कूल खोलने को तैयार केंद्र, राज्यों के हाथ में फैसला

पश्चिम बंगाल

ममता बैनर्जी ने राज्य में सभी कंटेनमेंट ज़ोन में 7 दिन के पूर्ण लॉकडाउन की घोषण की है।

दिल्ली में भी मौत के मामलों में अचानक बढ़ोतरी हो रही है इसी को देखते हुए मुख्यमंत्री ने हर मौत का कारण बताना अनिवार्य कर दिया है। देश के कई छोटे-छोटे जिलों में भी मामले बढ़ रहे हैं। देश में अनलॉक कर दिया गया है और लोग सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियों उड़ाकर शादियां और पार्टियां कर रहे हैं। प्रशासन बस खड़ा होकर तमाशा देख रहा है।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.