Home » HOME » लखीमपुर: वीडियो में देखिए कैसे मंत्री की गाड़ी ने किसानों को कुचल कर मार डाला

लखीमपुर: वीडियो में देखिए कैसे मंत्री की गाड़ी ने किसानों को कुचल कर मार डाला

lakhimpur kheeri viral video
Sharing is Important

लखीमपुर खीरी में किसानों का कुचलने वाला वीडियो सामने आ गया है। वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कैसे मंत्री की गाड़ी प्रदर्शन कर रहे किसानों को कुचल रही है। ट्विटर पर यह वीडियो जारी होने के बाद बवाल हो गया है।

सोमवार शाम को लखीमपुर का एक और वीडियो सामने आ गया जिसमें किसानों पर जानबूझकर गाड़ी चढ़ाते हुए देखा जा सकता है। आपको बता दें की यूपी के लखीमपुर खीरी में किसान भाजपा नेताओं का विरोध कर रहे थे। जिसमें 4 किसानों पर गाड़ी चढ़ाकर हत्या कर दी गई। इसके बाद भड़की हिंसा में 4 और लोगों की मौत हुई थी। इस घटना ने देश मेें राजनीतिक भूचाल ला दिया।

किसानों पर गाड़ी चढ़ाने का आरोप मोदी सरकार में गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा पर लगा है। किसानों ने बताया कि जब वे विरोध कर रहे थे तब न सिर्फ मंत्री के बेटे ने किसानों को गाड़ी से रौंदा बल्की बाद में गोली मारकर भी एक किसान की हत्या कर दी। मंत्री अजय सिंह ने कहा कि उनका बेटा घटना के वक्त वहां मौजूद नहीं था अगर वह वहां होता तो किसान उसकी भी पीट पीटकर हत्या कर देते।

READ:  Minor girl raped, killed In Gujarat's Surat

इस घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों को मुआवज़ा और परिजनों को नौकरी देने का वादा किया और दोषियों को सख्त सज़ा दिलाने का आश्वासन दिया। हालांकि इस घटना पर राजनीति गरमाई हुई है। तमामा विपक्षी नेता मृतकों के परिजनों से मिलने लखीमपुर खीरी जाना चाहते थे। लेकिन उन्हें नज़रबंद कर दिया गया। इस घटना पर अभी तक प्रधानमंत्री मोदी ने शोक व्यक्त नहीं किया है।

विपक्षी दलों ने भाजपा सरकार को किसान विरोधी और जनतंत्र का हत्यारा करार दिया है। नया वीडियो सामने आने के बाद ट्विटर पर लोगों ने रोष प्रकट किया है। वीडियो की अगर पुष्टी होती है तो उसमें किसानों को कुचलने वाले की पहचान भी की जा सकती है। इस घटना के बाद आने वाले दिनों में काफी हंगामा होने की उम्मीद है।

READ:  अभिव्यक्ति की आज़ादी पर मंड़राते ख़तरे को पहचानना ज़रूरी…!

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterInstagram, and WhatsappFor suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com