Home » लॉकडाउन में ग़रीब भूख से मर रहा है, नेताओं के घर शादी और 56 भोग चल रहा है

लॉकडाउन में ग़रीब भूख से मर रहा है, नेताओं के घर शादी और 56 भोग चल रहा है

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk

कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच शुक्रवार को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल की शादी हुई। लॉकडाउन के इस दौर में हो रही इस वीआईपी शादी में सबसे बड़ी दिक्कत कोरोना संक्रमण को लेकर जारी दिशा-निर्देश हैं । इससे पहले कुमारस्वामी ने अपने करीबियों और समर्थकों के लिए एक संदेश जारी कर माफी मांगी। उन्होंने कहा कि निखिल और रेवती की शादी 17 अप्रैल को फिक्स थी। आप सभी को इसमें बुलाना चाहता था, लेकिन महामारी के दौर में यह संभव नहीं। ऐसे में आप लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए घर से ही बेटे-बहू को आशीर्वाद प्रदान करें।

कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी के बेटे की शादी को लेकर गुरुवार को कहा कि उन्होंने कुमारस्वामी के बेटे की शादी पर नजर बनाए रखने के लिए प्रशासन से कहा है। उन्होंने कहा, “हम संबंधित अथॉरिटी से वहां पूरे कार्यक्रम की रिकॉर्डिंग और उसका दस्तावेज बनाने को कहेंगे। अगर कोरोना को लेकर जारी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन हुआ तो बिना किसी दूसरे विचार के कार्रवाई की जाएगी।”

READ:  Captain Amrinder Singh Left Congress: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस को कहा अलविदा

इससे पहले कर्नाटक के ही टुमकुर जिले के तुरुवेकेर से भाजपा विधायक एम जयराम (M Jayaram) ने लॉकडाउन के नियमों की कुछ इसी तरह धज्जियां उड़ाई थी। उन्‍होंने ग्रामीणों के साथ अपना जन्मदिन मनाया। मौके पर केक और बिरयानी लोगों में बंटवाई। उन्‍होंने वहां मौजूद बिन मास्‍क के बच्‍चों के हाथों में केक का टुकड़ा दिया और साथ ही सभी को बिरयानी भी खिलाई।

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।