कुलदीप सिंह सेंगर रेपिस्ट करार, जल्द सुनाई जाएगी सज़ा

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ग्राउंड रिपोर्ट | न्यूज़ डेस्क

दिल्ली की तीस हज़ारी कोर्ट ने एक और जघन्य अपराधी BJP पूर्व MLA कुलदीप सिंह सेंगर को उन्नाव रेप मामले में दोषी करार दिया है। 19 दिसम्बर को इस मामले पर बहस के बाद सज़ा सुनाई जाएगी। सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर इस मामले को लखनऊ से दिल्ली स्थानांतरित किए जाने के बाद न्यायाधीश शर्मा ने दिन रात सुनवाई की। तीस हजारी अदालत ने सीबीआई को चार्जशीट में देरी के लिए फटकार भी लगाई है।

इस मामले से जुड़ी 5 बड़ी बातें-

1.भाजपा से निष्कासित विधायक सेंगर पर 2017 में एक नाबालिग का अपहरण करने और उससे दुष्कर्म करने का आरोप था। इस मामले में सह आरोपी शशि सिंह पर भी मुकदमा चल रहा था। उसे अदालत ने बरी कर दिया है।

2. इस मामले में पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए एम्स में विशेष अदालत लगाई गई थी।

READ:  शराब माफिया से धमकी के बाद पत्रकार की रहस्यमय मौत !

3. विशेष अदालत ने सेंगर के खिलाफ आईपीसी की धारा 120बी (आपराधिक साजिश), 363 (अपहरण), 366 (जबरन शादी करने के लिए अपहरण), 376 (दुष्कर्म) और बच्चों को यौन उत्पीड़न से संरक्षण के लिए बने पॉक्सो की धारा के तहत आरोप तय किये थे।

4. 28 जुलाई को पीड़िता, उसके वकील व परिवार के अन्य सदस्य रायबरेली जा रहे थे। तभी उनकी कार को एक ट्रक टक्कर मार दी थी। इसमें पीड़िता की चाची व मौसी की मृत्यु हो गई थी। पीड़िता व उसका वकील गंभीर रुप से जख्मी हुए थे। पीड़िता ने सीबीआई के सामने हादसे के पीछे सेंगर का हाथ बताया था। लेकिन बाद में इसे महज़ एक्सीडेंट करार दिया गया था।

5. यह मामला तब उजागर हुआ जब पीड़िता ने लखनऊ में सीएम आवास के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। सीएम ने जांच के आदेश दिए। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान पीड़ित का पूरा परिवार खत्म हो गया। पिता की पुलिस कस्टडी में मौत हो गई और चाची की एक्सीडेंट में। पीड़िता भी गंभीर रूप से घायल हो गई थी। इस मामले पर देश भर में आक्रोश देखा गया।

%d bloggers like this: