Home » मध्य प्रदेश में 1 जुलाई से शुरू हो रहे ‘Kill Corona Campaign’, के बारे में 5 खास बातें!

मध्य प्रदेश में 1 जुलाई से शुरू हो रहे ‘Kill Corona Campaign’, के बारे में 5 खास बातें!

Coronavirus: covid1-9 cure Coronaviurs at home
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश सरकार ने बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए “किल कोरोना” कैंपेन (Kill Corona Campaign) शुरू करने का फैसला लिया है। यह कैंपेन 1 जुलाई से शुरू होगा और करीब 15 दिनों तक चलेगा। इस Kill Corona Campaign के तहत राज्य के सभी घरों की स्क्रीनिंग की जाएगी।

नए मामलों के आने के बाद राज्य का कोरोना काउंट 12,448 पर पहुंच गया है। इसमें से कुल 534 मरीज़ों की मौत हो चुकी है। वहीं पिछले 24 घंटों में करीब 9 लोगों कोरोना से मौत हो चुकी है।

1) Kill Corona Campaign के लिए बनाई जाएंगी 10000 टीमें
इस मामले में स्वास्थय मंत्री (Health Minister) नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि, ‘इस Kill Corona Campaign के लिए करीब 10,000 टीम बनाई जाएंगी और एक दिन में एक टीम करीब 100 घरों की स्क्रीनिंग करेगी।

READ:  UPSC Prelims Exam New Date: यूपीएससी की परीक्षा की नई तिथि यहां देखें

2) Kill Corona Campaign राजधानी भोपाल से शुरू होगा
वहीं मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य की सम्पूर्ण जनसंख्या की स्क्रीनिंग करना चाहते हैं ताकि राज्य में बढ़ती महामारी को रोका जा सके।’ यह Kill Corona Campaign मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से शुरू किया जाएगा।

3) Kill Corona Campaign से कोरोना का रोकने में मिलेगी मदद
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि उनके राज्य ने बाकि राज्यों की तुलना में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के प्रयास में काफी अच्छा प्रदर्शन दिखाया है। उन्होंने कहा कि देश भर के कुल कोरोना वायरस मामलों में मध्य प्रदेश का हिस्सा केवल 1.43% है। एक समय पर राज्य में कोरोना वायरस मामले इतने ज्यादा थे कि ये हिस्सा 6% था लेकिन आज वो 1.43% हो चुका है। इस Kill Corona Campaign के बाद कोरोना का फैलने से रोकने में मदद मिलेगी।

READ:  पिता को बचाने के लिए लड़की ने ऑक्सीजन सिलेंडर मांगा तो पड़ोसी ने कर दी 'SEX' की डिमांड!

4) Kill Corona Campaign कोरोना के साथ-साथ जुटाएंगी अन्य जानकारियां
मध्य प्रदेश के प्रमुख सचिव (स्वास्थ) (Principal Secretary, Health) फैज़ अहमद किदवई का कहना है कि Kill Corona Campaign के दौरान सर्वे टीम डेंगू, मलेरिया और डायरिया जैसी बिमारियों की भी जानकारी लेंगी जिसको फिर सार्थक मोबाइल ऐप पर डाला जाएगा।

5) कोरोना का मामला आने पूरे एरिया को कन्टेनमेंट जोन नहीं बनाया जाएगा
नरोत्तम मिश्रा ने यह भी बताया कि राज्य ने अपनी 21 दिन की कन्टेनमेंट पॉलिसी पर फिर से काम किया है और अब किसी नए कोरोना मामले के आने पर हज़ारों लोगों को तकलीफ नहीं सहनी पड़ेगी। अब सिर्फ वही घर जिसमें कोरोना के मामले हैं आएगा कन्टेनमेंट जोन में, बाकी घरों को उससे प्रभाव नहीं पड़ेगा।

आपको बता दें कि भारत में अब तक कुल 4,74,587 कोरोना वायरस के मामले दर्ज किए गए हैं जिन्में से करीब 2,72,636 लोगों ने कोरोना को मात दी है और स्वस्थ हो कर अपने घर लौटे हैं वहीं कुल 14,915 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है।