Kashmiri girl

Kashmiri बच्ची का वीडियो देख पिघला उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा का दिल, शिक्षा विभाग को दिए ये निर्देश

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Lieutenant Governor of Jammu and Kashmir, reaction on Kashmiri Cute Girl Viral World: कश्मीरी बच्ची का वीडियो वायरल होने के बाद जम्मू कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा (Lieutenant Governor of Jammu and Kashmir Manoj Sinha) ने एक्शन लिया है। उन्होंने लिखा है कि बहुत ही मासूम भरी शिकायत। राज्यपाल मनोज सिन्हा (Lieutenant Governor of Jammu and Kashmir Manoj Singh ) स्कूली बच्चों पर होमवर्क का बोझ कम करने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग को 48 घंटे के अंदर नीति बनाने का निर्देश दिया है। उनका यह भी कहना है की बचपन तो भगवान का दिया हुआ एक प्यारा सा उपहार है। जिसे हंसते, खेलते,और मुस्कुराते हुए बिताना चाहिए। बच्चों के ऊपर किसी भी प्रकार का बोझ नहीं होना चाहिए।

अस्सलामु अलैकुम मोदी साब, छोटे बच्चों को इतना काम क्यों देते हो

READ:  'Something Big is going to happen in Kashmir' Rumours in the air

बच्ची ने वीडियो के जरिए बयां किया अपना दर्द

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) की छह साल की बच्ची ने पीएम नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को वीडियो संदेश के माध्यम से यह बताने की कोशिश की है कि, लॉकडाउन की वजह से बच्चों को ऑनलाइन क्लासेज लेनी पड़ रही है। ऐसे में बच्चे घर पर रहकर परेशान हो गए है।अब पढ़ाई उन्हे बोझ सी लगने लगी है।स्कूलों में बच्चे खेलते,कूदते एक दूसरे के साथ बातें करते थे , तो उनको पढ़ाई बोझ नहीं लगती थी।ऐसे में Kashmir के राज्यपाल ने इस पर एक्शन लेते हुए कहा ही है कि बच्चों का बोझ कम किया जाए।

कश्मीरी(kashmiri) बच्ची का वीडियो तेजी से हो रहा वायरल
मासूम बच्ची का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया (Social Media) तेजी से लोगों के बीच वायरल हो रहा है। जिसमें उसका कहना है कि, इतना ज्यादा बोझ बच्चों पर क्यों डाला जा रहा है। वायरल वीडियो 1 मिनट 11 सेकंड का है। अब तक इस वीडियो को लगभग 4 लाख लोग देख चुके हैं, और 6 हजार से ज्यादा लोगों ने लाइक किया है। इतना ही नहीं 12 सौ यूजर्स ने वीडियो को रीट्वीट भी किया है। ऐसे में कई लोग उस वीडियो को मिठास और मशूमियत से भरा वीडियो बोल रहे हैं।

READ:  In Kashmir, man arrested for says No hope from non-Kashmiri officials

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

%d bloggers like this: