Home » सुप्रीम कोर्ट की योगी सरकार को फटकार, पूछा- किस आधार पर किया गिरफ्तार

सुप्रीम कोर्ट की योगी सरकार को फटकार, पूछा- किस आधार पर किया गिरफ्तार

ऐक्टिविस्ट और स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत कनौजिया
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली, 11 जून। स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत कनौजिया की गिरफ्तारी से जुड़े एक मामले में मंगलवार को सुनवाई को करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को फटकार लगाते हुए पूछा कि उन्हें किस आधार पर गिरफ्तार किया है। सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत कनौजिया को तत्काल रिहा करने का आदेश दिया है।

इस मामले में प्रशांत की पत्नी जागिशा अरोरा की ओर से दायर की गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि, ‘किसी की राय अलग-अलग हो सकती है, उन्हें (प्रशांत कनौजिया) को शायद उस ट्वीट को लिखना नहीं चाहिए था, लेकिन उन्हें किस आधार पर गिरफ्तार किया गया।’

READ:  UEFA Champion League: मैनचेस्टर सिटी को हरा चेल्सी बना दूसरी बार चैंपियन

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसी को ‘एक ट्वीट के लिए 11 दिन तक जेल में नहीं रखे सकते हैं।’ सर्वोच्च न्यायालय ने ‘यूपी सरकार से कहा है कि यह कोई हत्या का मामला नहीं है। मजिस्ट्रेट का ऑर्डर सही नहीं है। उसे (प्रशांत कनौजिया) तुरंत रिहा किया जाना चाहिए।’